भाजपा के महाकुंभ में PM मोदी ने दिया मंत्र, मेरा बूथ सबसे मजबूत 

भोपाल (उत्तम हिन्दू न्यूज) : आज भोपाल में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) कार्यंकतार्ओंं के महाकुंभ का आयोजन किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हम बीजेपी के कार्यकर्ता हैं, ये हमारे सौभाग्य की बात है। उन्होंने कहा कि बीजेपी का हर कार्यकर्ता देश की सेवा के भाव से काम करता है। पीएम ने कहा कि हम दीनदयाल जी का शताब्दी वर्ष कोई बड़े कार्यक्रम कर नहीं बल्कि लोगों की सेवा कर मना रहे हैं। आज हमारी पार्टी की 19 राज्य में सरकार है और हम विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है। 

इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के तीन महापुरुषों का नाम लिया और कहा कि महात्मा गांधी, डॉ. राम मनोहर लोहिया एवं पंडिल दीनदयाल उपाध्याय ने देश की जनता के लिए सोचा। आज उन्हीं के विचारधारा पर काम करने वाले लोग देश की राजनीति में अहम पदों पर कार्य कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दीनदयाल जी ने देश के अंतिम पंक्ति तक के लोगों की चिंता की। 

पीम मोदी ने कहा कि मध्यप्रदेश में हमारी पार्टी का संगठन काफी मजबूत है, यहां पर कई वर्ष से 25 सितंबर से महाकुंभ का मनाया जाता है। मैं भी पहले बतौर कार्यकर्ता यहां आ चुका हूं। उन्होंने कहा कि इस धरती के सपूत अटल बिहारी वाजपेयी आज हमारे बीच नहीं हैं, उनके आशीर्वाद से ही ये पार्टी आगे बढ़ रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश कभी भी दीनदयाल उपाध्याय, महात्मा गांधी और राम मनोहर लोहिया के योगदान को नहीं भूलेगा। हम वो लोग हैं जिन्हें गांधी-लोहिया-दीनदयाल सभी लोग मंजूर हैं। सबका साथ-सबका विकास सिर्फ चुनावी नारा नहीं है, उज्जवल भारत के भविष्य के लिए ये हमारा मार्ग है।

नरेन्द्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस को आत्मचिंतन करना चाहिए। देश पर 50 साल तक शासन करने वाली पार्टी देश में अपना स्थान ढुंढ रही है। आज उनकी स्थिति अच्छी नहीं है तो इसके लिए वे खुद जिम्मेबार हैं। भाजपा के बारे में उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी भी हारी लेकिन हमने संकल्प के साथ आगे बढ़ा और आज देश के अधिकतर भागों में हमारा डंका बज रहा है। कांग्रेस की दुगर्ति यह है कि छोटे दलों के सामने भी हाथ जोड़ रहे हैं। यदि कांग्रेस के लोग आत्मचिंतन किए होते, लोगों के लिए काम किए होते तो आज ऐसी नौबत नहीं आती। 

मोदी ने कहा विकास के मुद्दे पर चुनाव लडऩा है वे देश और समाज को तोडऩे के सिद्धांत पर चुनाव लडऩा चाहते हैं। हम संगठन की शक्ति पर चुनाव लड़ेंगे, उनको उनका सिद्धांत मुबारक पर हम ऐसा नहीं करेंगे। हम धनबल से चुनाव नहीं लड़ेंगे, हम जनबल से चुनाव लड़ेंगे। इसलिए मेरा मंत्र है, मेरा बूथ सबसे मजबूत इसी मंत्र के आधार पर हम चुनाव लड़ेंगे। हम गलत नहीं करेंगे न ही गलत रास्ते पर जाएंगे। अपना बूथ मजबूत करेंगे। 
 

Related Stories: