भारत-चीन सीमा पर 9 महीने बाद शांति, दोनों देशों ने पैंगोंग त्सो से हटाने शुरू किए सैनिक!

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): 9 माह से जारी भारत-चीन की तल्खी के बीच आज चीन ने बड़ा दावा किया है। चीन का दावा है कि लद्दाख में पैंगोंग त्सो (झील) के उत्तरी और दक्षिणी तट पर चीनी और भारतीय सैनिकों ने पीछे हटना शुरू कर दिया है। इस बारे में चीनी मीडिया ने चीनी रक्षा मंत्रालय के हवाले से कहा है कि सैन्य कमांडर-स्तरीय वार्ता के नौवें दौर के दौरान बनी आम सहमति के अनुसार सेनाओं का पीछे हटना शुरू हो गया है।

Pangong Tso


इस संबंध में अधिकारियों ने बताया कि चीन के विदेश मंत्रालय की ओर से इस बात का एलान करने के बाद कि बीजिंग ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) से अपने सैनिकों को वापस बुलाना शुरू कर दिया है, लेकिन इन अहम रणनीतिक चोटियों पर सैनिक अभी भी मौजूद हैं। पूर्वी लद्दाख में संघर्ष के कई बिंदुओं में से एक से बख्तरबंद वाहनों और उपकरणों की वापसी की खबर दोनों देशों के बीच हुई पिछली कमांडर स्तरीय वार्ता के करीब 15 दिन बाद आई है। दोनों पक्षों ने सैनिकों को पीछे हटाने को लेकर 24 जनवरी को बैठक कर चर्चा की थी।

भारत चीन गतिरोध

ग्लोबल टाइम्स ने चाइना मिनिस्ट्री ऑफ नेशनल डिफेंस के हवाले से ट्वीट किया, 'पैंगोंग झील के दक्षिणी और उत्तरी किनारे पर चीनी और भारतीय सीमा सैनिकों ने बुधवार को योजना के अनुसार पीछे हटना शुरू कर दिया है। कमांडर स्तर की 9वें दौर की वार्ता के दौरान इस पर सहमति बनी थी।'