पासपोर्ट दफ्तर, जालंधर को पूरे देश में पांचवीं बार मिला बढिय़ा कारगुज़ारी के लिए पुरस्कार

हम भविष्य में भी लोगों को बढिय़ा सेवाएं प्रदान करते रहेंगे : राज कुमार बाली


जालंधर (उत्तम हिन्दू न्यूज):  एक और उपलब्धि प्राप्त करते हुए पासपोर्ट दफ्तर जालंधर को पूरे देश में से पांचवीं बार बढिय़ा कारगुज़ारी के लिए पुरस्कार प्राप्त हुआ है। इस बाबत जानकारी देते हुए रीजनल पासपोर्ट अधिकारी राज कुमार बाली ने बताया कि हर साल पासपोर्ट सेवा दिवस, विदेश मंत्रालय की तरफ से 24 जून को मनाया जाता है। उन्होंने बताया कि इस साल कोविड -19 महामारी दौरान पासपोर्ट सेवा दिवस वीडियो कांफ्रेंसिंग द्वारा मनाया गया। उन्होनें कहा कि पासपोर्ट सेवा दिवस पर हर साल देश के पासपोर्ट सेवा केन्द्रों की कारगुज़ारी और महत्वपूर्ण तथ्यों का मूल्यांकन किया जाता है। 

रीजनल पासपोर्ट अधिकारी ने बताया कि पासपोर्ट दफ़्तरों की बढिया कारगुज़ारी के लिए पासपोर्ट सेवा इनाम का ऐलान किया गया। यह सम्मान वाली बात है कि पासपोर्ट दफ्तर जालंधर को पूरे देश में पांचवीं बार बढिय़ा कारगुज़ारी के लिए पहला इनाम दिया गया। इस संबंधी पासपोर्ट दफ़्तर के पूरे स्टाफ और जालंधर के पासपोर्ट दफ़्तर के अधिकारी क्षेत्र में आने वाले लोगों को बधाई देते हुए बाली ने कहा कि इससे पासपोर्ट दफ्तर जालंधर का पूरा स्टाफ भविष्य में लोगों को और बढिय़ा सेवाएं प्रदान करता रहेगा। उन्होंने कहा कि पासपोर्ट दफ्तर जालंधर इस सम्मान के लिए चुने जाने के लिए बहुत सम्मानित महसूस कर रहा है। उन्होनें कहा कि स्टाफ ने पूरे लगन से काम करने की शपथ उठाई है और पासपोर्ट दफ़्तर की तरफ से दफ़्तर की शान को बरकरार रखने के लिए लोगों की पूरे उत्साह के साथ सेवा करता रहेगा।