तरनतारन में लंबे रूट की रेल गाड़ी न रुकने के कारण यात्री परेशान


यात्रियों से रेलवे पुलिस तंग परेशान करके वसूलती है भारी जुर्माना
तरनतारन/ विवेक गुप्ता
 केंद्र सरकार की ओर से पास किए गए कृषि सुधार कानूनों के विरोध में किसान-मजदूर संघर्ष कमेटी के नेता अमृतसर के मानांवाला में विशाल धरना लगाकर बैठे है। जिसके कारण रेलवे विभाग ने नई तरकीब लड़ाते हुए लंबे रूट की गाडिय़ों को वाया तरनतारन से भेजने की कवायद शुरू की है। गाडिय़ां भले ही तरनतारन से आती-जाती है, लेकिन इसका लाभ तरनतारन जिले के लोगों को न मिलने से मुसाफिरों में मायूसी पाई जा रही है।
 लंबे रूट की गाडिय़ां अमृतसर रेलवे स्टेशन पर ही रुकती है  
वर्णनीय है कि पिछले करीब 50 दिनों से किसान कृषि सुधार कानूनों के विरोध में मानांवाला रेलवे ट्रैक पर धरना लगाकर बैठे है। सरकार और प्रशासन की ओर से इस धरने को उठाने लिए अनेकों प्रयत्न किए गए, लेकिन कोई हल नहीं निकला। रेलवे विभाग को पड़ रहे भारी घाटे के चलते विशेषज्ञों की सलाह के बाद लंबे रूट की गाडिय़ों को वाया तरनतारन से आने-जाने लिए योजना बनाई गई। अब वाया तरनतारन से लंबे रूट की गाडिय़ां आ-जा रही है। ऐसे योजना की सूचना मिलते ही तरनतारन जिले के लोगों को राहत की सांस मिली थी। लोगों को महसूस हो रहा था कि तरनतारन रेलवे ट्रैक पर गाड़ी रुकने से उन्हें काफी लाभ होगा, लेकिन सब कुछ इसके विपरीत हो रहा है। लंबे रूट की गाडिय़ां अमृतसर रेलवे स्टेशन पर रुकती है। यदि कोई लंबे रूट की गाड़ी तक स्टेशन पर रुक भी जाए और यात्री उतर भी जाए तो रेलवे पुलिस उन्हें तंग परेशान करके जुर्माना वसूल करती है। 
 तरनतारन रेलवे स्टेशन पर लंबे रूट की गाडिय़ां रुकनी चाहिए : यात्री
 इस संबंधी यात्री सतीश कुमार, मदन लाल, कपूर चंद, बख्शीश सिंह, हरनाम सिंह, पंडित माया राम ने बताया कि वे तरनतारन जिले के निवासी है। वह दिल्ली से तरनतारन आए है। जब तरनतारन रेलवे स्टेशन पर उतरे तो रेलवे पुलिस की ओर से उन्हें हिरासत में लेकर तंग परेशान किया गया। पुलिस ने जुर्माना वसूल करके उन्हें छोड़ा। दलीप कुमार, हरनाम सिंह ने बताया कि उन्होंने दिल्ली से तरनतारन आना था, लेकिन गाड़ी तरनतारन नहीं रुकी। जिसके कारण अमृतसर रेलवे स्टेशन पर उतरकर उन्हें बस स्टैंड पर जाकर तरनतारन के लिए बस लेनी पड़ी। उन्होंने मांग की कि तरनतारन रेलवे स्टेशन पर लंबे रूट की गाडिय़ां रुकनी चाहिए तथा लोगों की समस्याओं का समाधान होना चाहिए। 

क्या कहा  स्टेशन मास्टर ने 
वहीं,  तरनतारन के स्टेशन मास्टर ने कहा कि तरनतारन स्टेशन पर कोई स्टापेज नहीं है। यदि कोई गाड़ी यहां पर रुकती है तो वह हैड आफिस के आदेशों पर रुकती है। इस मामले में मेरा कोई दखल नहीं है। 

तरनतारन शहर में बढ़ेगा  कारोबार   : जोशी 

शिवसेना पंजाब के जिला तरनतारन के अध्यक्ष अभिषेक जोशी ने लोकसभा हलका खडूर साहिब के सांसद जसबीर सिंह डिंपा को उक्त समस्या से अवगत करवाते मांग की कि तरनतारन रेलवे स्टेशन पर लंबे रूट की गाडिय़ां रुकवाई जाए। इसका लाभ जहां यात्रियों को होगा, वहीं तरनतारन शहर में कारोबारी भी बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि रेलवे विभाग के उच्च अधिकारियों को भी इस बाबत पत्र लिखा जा रहा है। वहीं, सांसद डिंपा ने समस्या के समाधान का आश्वासन दिलाया है। उन्होंने कहा कि रेलवे विभाग के उच्चाधिकारियों से संपर्क करके लोगों की समस्या का हर हाल में समाधान करवाया जाएगा, क्योंकि समस्याओं का समाधान करवाना मेरा प्रथम कर्तव्य है।