परनीत कौर ने गलवान घाटी के शहीद नायब सूबेदार मनदीप सिंह की पत्नी को सरकारी नौकरी का नियुक्ति पत्र सौंपा

-पंजाब सरकार शहीदों के परिवारों के साथ खड़ी : परनीत कौर
पटियाला (उत्तम हिन्दू न्यूज):
श्रीमती परनीत कौर, सदस्य लोकसभा, पटियाला ने आज सील गांव के शहीद नायब सूबेदार मनदीप सिंह खरौड़ जो पिछले साल जून में गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ लड़ते हुए शहीद हो गए थे की पत्नी गुरदीप कौर के घर जा कर उन्हें सरकारी नौकरी का नियुक्ति पत्र सौंपा। इस अवसर पर घनौर निर्वाचन क्षेत्र के विधायक मदन लाल जलालपुर भी उपस्थित थे।

इस अवसर पर श्रीमती परनीत कौर ने कहा कि पूरे देश को उन शहीदों पर गर्व है जो देश के लिए शहीद हुए और पटियाला जिले के इस महान सपूत शहीद मंदीप सिंह ने अपने बलिदान से न केवल गांव सील बल्कि पंजाब का भी नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि पहले मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बहादुरगढ़ से घनौर रोड का नामकरण 'शहीद नायब सूबेदार मंदीप सिंह मार्गÓ के रूप में करके उनके बलिदान की याद को हमेशा अमर किया और अब उनकी पत्नी को सहकारिता विभाग में सहकारी समितियों के निरीक्षक के रूप में नियुक्त किया गया है।

श्रीमती परनीत कौर ने कहा कि हालांकि पंजाब सरकार, मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में देश की सीमाओं की रक्षा कर रहे शहीद सैनिकों के परिवारों के हर दुख-सुख में उनके साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि शहीदों की शहादत का कोई मूल्य नहीं चुकाया जा सकता लेकिन मुख्यमंत्री, जो खुद भारतीय सेना का हिस्सा रहे होने के कारण सैनिकों के दु:ख-सुख को समझते हैं। इसलिए उन्होंने शहीदों के परिवारों को पहले दी जाने वाली मदद राशि को 10 लाख से बढ़ा कर 50 लाख रुपए की थी।

उन्होंने विश्वास दिलाया कि भविष्य में भी वह और मुख्यमंत्री शहीद मनदीप सिंह के परिवार के हर दुख-दर्द में उनके साथ रहेंगे।