हमारी पार्टी नगरपालिका, पंचायत चुनाव में हिस्सा नहीं लेगी : फारूक

श्रीनगर (उत्तम हिन्दू न्यूज): नेशनल कान्फ्रेंस (एनसी) ने बुधवार को जम्मू एवं कश्मीर में आगामी नगरपालिका व पंचायत चुनाव का बहिष्कार करने का एलान किया। पार्टी का कहना है कि प्रदेश में चुनाव के लिए हालात अनुकूल नहीं है। एनसी के पूर्व अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला की अगुवाई में पार्टी ने आगामी नगरपालिका और पंचायत चुनाव से अलग रहने की घोषणा की। श्रीनगर में एक प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए फारूक अब्दुल्ला ने कहा, "हमारी पार्टी नगरपालिका और पंचायत चुनाव में तब तक हिस्सा नहीं लेगी जब तक केंद्र निवासियों (जम्मू-कश्मीर) को विशेषाधिकार प्रदान करने वाले अनुच्छेद 35 ए पर अपना रुख स्पष्ट नहीं करेगी और इसकी रक्षा के लिए प्रभावी कदम नहीं उठाएगी।"

उन्होंने कहा, "कोर ग्रुप का मानना है कि नगरपालिका और पंचायत चुनाव करवाने का फैसला जल्दबाजी में लिया गया और इससे पहले अनुच्छेद 35 ए के संबंध में व्यर्थ की बातों से अनावश्यक रूप से पैदा हुए हालात पर विचार नहीं किया गया। "

इससे पहले बुधवार को ही फारूक अब्दुल्ला के पुत्र और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट के माध्यम से कहा, "केंद्र सरकार को अब अनुच्छेद 35 ए के संबंध में अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए। सिर्फ अदालत की कार्यवाही को लंबित करने के लिए पंचायत और नगरपालिका चुनाव करवाना ठीक नहीं है।"

सर्वोच्च न्यायालय ने 31 अगस्त को अनुच्छेद 35 ए को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई स्थगित कर दी क्योंकि केंद्र ने सरकार से मामले पर जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव होने के बाद विचार करने की मांग की थी। आठ चरणों में होने वाला चुनाव दिसंबर में पूरा होगा। 

Related Stories: