संगठनों ने केंद्र के खिलाफ निकाला रोष मार्च

नंगल/अशोक चोपड़ा : केंद्र सरकार पर कर्मचारी व किसान विरोधी नीतियां बनने का आरोप लगाते विभिन्न कर्मचारी संगठनों ने रोष मार्च निकाल केंद्र सरकार के खिलाफ जम कर नारेबाजी की।बीबीएमबी के स्टाफ कलब से शुरू हुई यह रोष रैली स्थानीय बस स्टैंड जा कर संपन्न हुई यहां कर्मचारी नेताओं ने केंद्र सरकार पर जम कर हल्ला बोला। इस रोष प्रदर्शन में महिलाओं ने भी बढ़ चढ़ कर हिसा लिया। इस रोष रैली में सीटू,इंटक,ऐटक,पंजाब रोडवेज ,बीबीएमबी वर्कर यूनियन,निर्माण मजदूर यूनियन, नेशनल सफाई मजदूर यूनियन व पीएसीएल के कर्मचारी संगठनों के अलावा अन्य भी शामिल हुए। इस रैली में शामिल विभिन्न संगठनों से जुड़े नेताओं जिसमें जिला इंटक के महासचिव सतनाम सिंह लादी, सीटू के महासचिव विनोद भट्टी,एटक नेता गुरनाम सिंह, इंटक नेता सुखदेव सिंह, गोपाल कृष्ण शर्मा, विनोद राणा व नवीन चंद्र शर्मा ने केंद्र की एनडीए सरकार पर कर्मचारी व किसान विरोधी कानून बनाने का आरोप लगाते हुए केंद्र की एनडीए सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। यह रोष रैली विभिन्न वैनरों के साथ नंगल के स्टाफ क्लब से शुरू हुई और नंगल के बस स्टैंड के निकट जा कर संपन्न हुई। रोष प्रदर्शन में शामिल लोगों ने बताया कि केंद्र सरकार देश में लगातार निजीकर्ण को बढ़ावा दे रही है जिसका वह विरोध कर रहे हंै।उन्होने कहा कि एनडीए सरकार युवाओं को रोजगार देने की कोई योजना पर काम नही कर रही जिस कारण देश में  बेरोजगारों की फौज लगातार बढ़ती जा रही है।इन लोगों की माने तो वह सरकार की आर्थिक,श्रम व किसान विरोधी नीतियों का विरोध कर रहे है क्यों कि केंद्र सरकार जो भी नीतियां बना रही है उससे देश के हर वर्ग को नुकसान उठाना पड़ रहा है। रोष प्रदर्शन में शामिल इन कर्मचारी संगठनों ने केंद्र से किसान बिल वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि अगर केंद्र सरकार ने बिल वापस ना लिए तो मजबूरन उन्हे भी उनके संघर्ष में सहयोग करने को मजबूर होना पड़ेगा। इस मौके पर इंटक नेता परमजीत राणा, हरजिंदर सिंह गाजीपुर,भोले के नाथ, गुरदीप सिंह, चंदन सिंह, सुरेंद्र पाल,रजेश कुमार, रणवीर राणा, विजय कुमार,रिमल दास, सुखचैन,बलबीर संगेलिया, दलजीत राणा, दलबीर प्रिंस व सीटू नेताओं में प्राणनाथ, भूपेंदर सिंह, राजा सिंह,अजय कुमार, जरनैल सिंह, दर्शन सिंह, रमेश लाल, जगदेव सिंह के अलावा एटक नेताओं में गुरनाम सिंह, मोर सिंह, मंगतराम, नर सिंह, सतपाल, बृजपाल, बीबीएमबी बर्कर यूनियन के अध्यक्ष रामकुमार, सिकंदर सिंह, राममिलन, राहुल, तिलक राज,गंगाराम, तिलक राज, धर्मपाल, रामबन व धीरज इत्यादि भी उपस्थित थे।