मात्र कुछ देर की बरसात ने खोली अम्बाला को बाढ़ मुक्त करने के दावे की पोल : चित्रा सरवारा

अम्बाला (राजेन्द्र भारद्वाज): हरियाणा डेमोक्रेटिक फ्रंट की नेत्री चित्रा सरवारा ने कहा कि लगभग एक घंटे की बरसात ने ही अम्बाला प्रशाशन और गृह मंत्री अनिल विज की ओर से करवाये जा रहे खोखले विकास कार्यों के दावों की पोल खोल के रख दी। चित्रा सरवारा ने कहा कि मात्र कुछ घंटे की बारिश के बाद पूरा अम्बाला छावनी तालाब में तब्दील हो गया है। जिसके बाद लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है जबकि अम्बाला के कई इलाके ऐसे हैं जहां सुबह तक भी कई कई फुट पानी खड़ा रहा जिसके बाद लोग खुद ही सुबह से शाम तक अपने घरों और दुकानों से पानी निकालते देखे गए। लेकिन बारिश होने के बाद भी अगले दिन दोपहर बाद तक कोई भी प्रशासनिकअधिकारी अम्बाला कैंट के किसी भी इलाके में लोगों की सुध लेने तक नहीं पहुँचे।

चित्रा सरवारा ने कहा कि हर साल नालों और नालियों की सफाई के लिए लाखों रुपये खर्च करने का दावा करने वाले और अम्बाला को बाढ़मुक्त बताने वाले गृह मंत्री अनिल विज और अम्बाला प्रशासन आज कहां थे ? चित्रा सरवारा ने कहा कि मात्र एक दिन हुई बरसात ने जिला प्रशासन के स्वच्छता अभियान के दावों की भी पोल खोल कर रख दी है हालांकि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छता अभियान के अंतर्गत करोड़ों रुपए खर्च करके भारत को स्वच्छ बनाने का दावा किया था। वहीं दूसरी ओर मात्र 1 घंटे की बरसात ने उनके इन दावों की भी पोल खोल दी है।

अम्बाला में जहां भी देखो गंदगी का आलम है, आज मानसून सिर पर है और अम्बाला छावनी के सभी बड़े नाले ऊपर तक गंदगी से लबालब भरे पड़े हैं। एक घंटे की बरसात के बाद नगर के बाजारों में फैली गंदगी पर चित्रा सरवारा ने कटाक्ष करते हुए कहा कि सरकार करोड़ों रुपए खर्च करके देश और प्रदेश में सफाई के दावे कर रही है लेकिन अम्बाला में इसकी पोल खुलती नजर आ रही है । चित्रा सरवारा ने कहा कि जहां भी देखो बाजार हो या नालियां-नाले सभी गंदगी से अटे पड़े हैं।