अब मार्किट में गाय-भैंस और बकरी के साथ-साथ मिलेगा गधी का दूध, 1 लीटर की कीमत 7000 रुपये, यहां खुलेगी डेयरी

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): आम तौर पर भारत में लोग गाय-भैंस या बकरी का दूध पीते हैं, लेकिन अब देश में पहली बार कुछ ऐसा होने जा रहा है, जो आपको हैरान कर देगा। जी हां, अभी तक आपने केवल गाय या भैंस की डेयरी देखी होगी, लेकिन बहुत जल्द ही गधी के दूध की भी डेयरी खुलने वाली है। देश में राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केंद्र (एनआरसीई) हिसार में गधी के दूध की डेयरी शुरू होने जा रही है। 

Milking the opportunity: how camel, goat and donkey milk are ...

जानकारी के अनुसार एनआरसीई हिसार में हलारी नस्ल की गधी के दूध की डेरी शुरू होने जा रही है, जिसके लिए एनआरसीई ने 10 हलारी नस्ल की गधियों को पहले ही मंगा लिया था। फिलहाल इनकी ब्रीडिंग की जा रही है। गधी का दूध इंसानों के लिए ना सिर्फ बेहद फायदेमंद होता है बल्कि शरीर का इम्यून सिस्टम ठीक करने में काफी बड़ी भूमिका निभाता है।  

Drink now milk of donkey, do not be surprised ... 7000 rupees a ...

लहारी नस्ल गुजरात में पाई जाती है। जिसके दूध को दवाइयों का खजाना माना जाता है। लहारी नस्ल की गधी में कैंसर, मोटापा, ऐलर्जी जैसे बीमारियों से लड़ने की क्षमता होती है। कई बार गाय या भैंस के दूध से छोटे बच्चों को ऐलर्जी हो जाती है मगर हलारी नस्ल की गधी के दूध से कभी ऐलर्जी नहीं होती। गधी के दूध में ऐंटीऑक्सिडेंट, एनटीएजिंग तत्व पाए जाते हैं, जबकि दूध में फैट नाममात्र होता है। गधी के दूध पर शोध का काम NRCE के पूर्व डायरेक्टर डॉक्टर बीऐन त्रिपाठी ने शुरू कराया था।

Dairy of donkey milk will start for the first time in the India ...

बताया जा रहा है कि गधी का दूध बाजार में 2000 से लेकर 7000 रुपए प्रति लीटर तक में बिकता है। इससे ब्यूटी प्रॉडक्ट्स भी बनाए जाते हैं। डेयरी शुरू करने के लिए NRCE हिसार के केंद्रीय भैंस अनुसंधान केंद्र और करनाल के नेशनल डेयरी रीसर्च इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों की भी मदद ली जा रही है।