बड़ा फैसला : गैर सूचीबद्ध सरकारी कंपनियां केवल डीमैट शेयर जारी करेंगी

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): सार्वजनिक क्षेत्र की गैर सूचीबद्ध कंपनियां दो अक्टूबर से केवल डिमटेरियलाइज्ड (डीमैट) स्वरूप में नए शेयर कर सकेंगी और इसी स्वरूप में सभी शेयरों को हस्तांतरित भी करेंगी। कंपनी मामलों के मंत्रलाय ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है। कॉरपोरेट क्षेत्र में पारदर्शिता बढ़ाने, निवेशक संरक्षण और सुव्‍यवस्थित गवर्नेंस सुनिश्चित करने के उद्देश्‍य से उसने यह कदम उठाया है। इस संबंध में नियमों को आवश्यकतानुसार संशोधित किया गया है।

मंत्रालय के अनुसार प्रतिभूतियों के डिमटेरियलाइजेशन से कंपनियों को कई लाभ होंगे। इससे कागजी प्रमाणपत्रों से जुड़े जोखिम भी कम होंगे। बढ़ती पारदर्शिता से कॉरपोरेट गवर्नेंस प्रणाली बेहतर होगी और बेनामी शेयरधारिता, शेयरों को पिछली तारीख से जारी करने आदि से रोका जा सकेगा। इसके साथ ही हस्तांतरण पर स्टाम्प ड्यूटी के भुगतान से छूट मिलेगी। प्रतिभूतियों के हस्तांतरण, इन्हें गिरवी रखने, इत्यादि में आसानी होगी। प्रतिभूतियों के डिमटेरियलाइजेशन से जुड़ी शिकायत आईईपीएफ प्राधिकरण द्वारा दूर किया जाएगा।