गेहूं छोड़ किसी फसल की एमएसपी पर नहीं हो रही खरीद: यादव

 

सिरसा/कृष्ण तिवारी:  स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने आज आरोप लगाया कि हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य(एमएसपी) को लेकर किसानों को गुमराह कर रहे हैं और गेहूं छोड़कर कोई फसल सरकार एमएसपी पर नहीं खरीद रही। श्री यादव यहां कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के शहीद भगत सिंह स्टेडियम में अनिश्चितकालीन धरने में किसानों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश सरकार 'मेरी फसल मेरा ब्योराÓ के तहत आंकड़े जुटाकर फसलों के उत्पादन का जो आंकलन कर रही है वह वास्तविक उत्पादन से कम है।
उन्होंने कहा कि सरकार का फर्ज बनता है कि इस किसान जितना भी अनाज पैदा करेंए सरकारें उसका दाना-दाना खरीद करे। उन्होंने दावा किया कि सिरसा में चल रहा किसान आंदोलन किसी पार्टी विशेष का न होकर राज्य की 17 किसान जत्थे बंदियों का है और जिस तरह पंजाब के जुझारू किसानों ने हरसिमरत कौर बादल को केंद्र में मंत्रिमंडल पद छोडऩे व शिरोमणि अकाली दल को भारतीय जनता पार्टी से नाता तोडऩे के लिए मजबूर कर दियाए उसी तरह हरियाणा के किसान भी दुष्यंत चौटाला व बिजली मंत्री रणजीत सिंह को इस्तीफा देने पर बाध्य कर देंगे। इस अवसर पर हरियाणा किसान मंच के प्रदेश अध्यक्ष प्रह्लाद सिंहभारू खेड़ा ने कहा कि केंद्र सरकार के पारित तीन कृषि अध्यादेश किसान के दुश्मन हैं औैर अगर इन कानूनों को अमलीजामा पहनाया गया तो किसान बर्बाद हो जाएंगे। श्री भारूखेड़ा ने आरोप लगाया सरकार डंडे और लाठी के दम पर किसानों को दबाना चाहती है और कहा कि मगर हरियाणा का किसान डरने वाला नहीं है।