निर्भया के सभी दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी, अब एक फरवरी को होगी फांसी

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): निर्भया केस में दोषी मुकेश की दया याचिका खारिज होने के बाद चारों दोषियों को नया डेथ वारंट जारी कर दिया गया है। दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने अब उन्हें 1 फरवरी सुबह 6 बजे फांसी पर लटकाने का फैसला सुनाया है। इससे पहले उन्हें 22 जनवरी को सुबह 7 बजे फांसी दी जानी थी, लेकिन एक दोषी ने दया याचिका दायर की थी और उसकी दया याचिका खारिज होने के बाद प्रक्रिया के तहत नया डेथ वॉरंट जारी करना पड़ा और फांसी की तारीख बढ़ानी पड़ी।

Image result for निर्भया के सभी दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी, अब एक फरवरी को होगी फांसी

नया डेथ वारंट जारी होने के बाद निर्भया की मां ने कहा कि हमें सिर्फ तारीख पर तारीख मिल रही है। हमारा सिस्टम ही ऐसा बना है कि हमें तारीख पर तारीख मिल रही है। जो दोषी चाहते हैं वहीं उन्हें मिल रहा है। दोषियों का अधिकार है लेकिन हमारा कुछ भी अधिकार नहीं है। निर्भया की मां ने कहा, जब तक मेरी बेटी के दोषियों को फांसी नहीं होती, उन्हें शांति नहीं मिलेगी।

Image result for निर्भया के सभी दोषियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी, अब एक फरवरी को होगी फांसी

इससे पहले तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने शुक्रवार को कोर्ट में दोषियों के खिलाफ मौत की सजा पर फिर से डेथ वॉरंट जारी करने की अपील की थी। एडिशनल सेशन जज जस्टिस सतीश कुमार अरोड़ा ने जेल प्रशासन से कहा कि वह अदालत को शाम साढ़े चार बजे तक यह बताएं कि निर्भया मामले के चार दोषियों में से एक मुकेश कुमार सिंह को यह सूचित किया गया है या नहीं कि राष्ट्रपति ने उसकी दया याचिका अस्वीकार कर दी है।

क्या है मामला
गौरतलब है कि 16 दिसंबर 2012 को हुई इस घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था। छह आरोपियों ने 23 वर्षीय महिला के साथ चलती बस में मिलकर दुष्कर्म किया था और उसकी बुरी तरफ पिटाई की थी। बाद में छात्रा की मौत हो गई थी। सभी छह आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। आरोपियों में से एक नाबालिग था, इसलिए उसे किशोर अदालत के समक्ष प्रस्तुत किया गया। वहीं अन्य आरोपी राम सिंह ने तिहाड़ जेल में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी।