नायडू ने दी अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस की शुभकामनाएं

नयी दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) :  उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने रविवार को कहा कि मातृभाषाएं सिर्फ संवाद का ही माध्यम नहीं है बल्कि हमें अपनी विरासत से जोड़ती है।

नायडू ने अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस पर जारी एक संदेश में कहा कि हमें प्राथमिक शिक्षा से ले कर प्रशासन तक हर क्षेत्र में मातृभाषा के प्रयोग को बढ़ावा देना चाहिए। अपने विचारों एवं अपने भावों को रचनात्मक रूप से अपनी भाषा में अभिव्यक्त करना चाहिए।

उन्होंने कहा, “ अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस पर मेरी हार्दिक शुभकामनाएं। भाषाई विविधता सदैव ही हमारी सभ्यता का आधार रही है। हमारी मातृभाषाएं सिर्फ संवाद का ही माध्यम नहीं है बल्कि हमें हमारी विरासत से जोड़ती है, हमारी पहचान को परिभाषित करती हैं।”