नायडू ने वाईएसआर कांग्रेस काे अाड़े हाथों लिया

अमरावती (उत्तम हिन्दू न्यूज): आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने राज्य विधानसभा के मानसून सत्र के बहिष्कार को लेकर मुख्य विपक्षी वाईएसआर कांग्रेस पार्टी को आड़े हाथों लिया और कहा कि वे अपना प्राथमिक दायित्व भूल चुके हैं।

नायडू शुक्रवार को यहां मंत्रियों और तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के वरिष्ठ नेताओं के साथ टेलीकांफ्रेंस को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जनता विधानसभा सत्र को देख रही है और उसने विपक्ष के गैरजिम्मेदाराना रूख पर ध्यान दिया है और वह राजनीतिक दलों के इस रूख को सहन नहीं करेगी। उन्हाेंने कहा कि हाल में कुछ शिक्षकों ने वाईएसआर कांग्रेस नेताओं से सवाल किया था कि वे विधानसभा सत्र का बहिष्कार क्यों कर रहे हैं, लेकिन विपक्षी नेता इसका जवाब नहीं दे सकते।

मुख्यमंत्री ने कहा, जब विपक्षी विधायक विधानसभा सत्र में शामिल नहीं हो रहे हैं, तब उनकी सदस्यता किसी और काम नहीं आयेगी। सदन में उपस्थित होना प्रत्येक विधायक का प्रमुख दायित्व है। सभी सदस्यों को लघु और दीर्घ बहस में शामिल होना चाहिए।  उन्हाेंने अमरावती राजधानी निर्माण को लेकर विधान परिषद में आयोजित बहस में शामिल होने सभी परिषद सदस्यों से अपील की।