खेती के ढांचे पर वार कर रहे मोदी: राहुल गांधी

कुरुक्षेत्र (सरबजोत दुग्गल): केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए कृषि विधेयकों के खिलाफ कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की खेती बचाओ यात्रा ने काफी गरम माहौल में हरियाणा में प्रवेश किया। काफी गहमागहमी के बाद राहुल गांधी का हरियाणा में प्रवेश हो पाया। लगभग 4-5 घंटे देरी से राहुल गांधी ट्रैक्टर पर सवार होकर हरियाणा में पहुंचे, तो उनके ट्रैक्टर की कमान कुमारी शैलजा और सुरजेवाला ने बारी बारी संभाली। राहुल गांधी ने हरियाणा में प्रवेश करते ही हाथ हिलाकर कार्यकर्ताओं का अभिवादन स्वीकार किया।

उनके स्वागत को लेकर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुमारी शैलजा, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला, पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश, राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा, पूर्व वित्त मंत्री हरमोहिंद्र सिंह च_ा, पूर्व मंत्री अशोक अरोड़ा, पूर्व मंत्री किरण चौधरी, श्रुति चौधरी, विधायक कुलदीप बिश्नोई, मेवा सिंह, पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष फूलचंद मुलाना, कैप्टन अजय यादव, चिरंजीव राव, विधायक गीता भुक्कल, विधायक शकुंतला खटक, विधायक शमशेर गोगी, मुनीलाल रंगा सहित अनेकों वर्तमान विधायक, पूर्व विधायक व मंत्री सहित अनेक कांग्रेस नेता उपस्थित रहे। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाधी ने पिहोवा अनाज मंडी में आढ़तियों व किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 6 साल से सरकार है और उन्होंने कुछ नहीं किया। कुछ साल पहले नरेंद्र मोदी ने कहा था 15-15 लाख रुपए खाते में आएंगे, मगर कुछ नहीं आया।

हिंदुस्तान के सबसे अमीर लोगों का कर्जा माफ  कर दिया, लेकिन छोटे दुकानदार का एक रुपया भी माफ  नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि यदि कृषि बिल किसानों के हित में होते, तो फिर पंजाब, हरियाणा, राजस्थान व यूपी के किसान आंदोलन क्यों कर रहे हैं। इस संबंध में राज्यसभा और लोकसभा में डिबेट क्यों नहीं की। उन्होंने कहा मोदी गलत सोचते हैं किसान किसी से नहीं डरता। यह किसी भी हालत में पीछे नहीं हटने वाला है। उन्होंने कहा कि इंडस्ट्री के बाद मोदी खेती ढांचे पर वार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को गलतफहमी है और वह सोचते हैं कि हिंदुस्तान का किसान खड़ा नहीं होगा, दब जाएगा। मगर देश का किसान अब संघर्ष के लिए निकल चुका है।