जहरीली शराब प्रकरण में मैजिस्ट्रेट जांच केवल खानापूर्ति : सुखबीर

12:54 PM Aug 02, 2020 |

जंडियाला गुरु (कुलजीत सिंह): आज मुच्छल गांव में शिरोमणि अकाली दल बादल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर वार करते हुए कहा कि जो मजिस्ट्रियल जांच है वह केवल इस गिरोह में शामिल आरोपियों को बचाने के लिए की जा रही है। उन्होंने रेल हादसे की मिसाल देते हुए कहा कि उसमें भी कैप्टन सरकार द्वारा सिद्ध औऱ उसके समर्थकों को इसी जांच द्वारा बचाया गया ।इसके इलावा हल्का विधायक सुखविंदर सिंह डैनी पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि इसी गांव में कुछ समय पहले जो एक्साइज अधिकारी अवैध शराब के कारोबारियों को पकडऩे आए थे ।

हल्का विधायक द्वारा उन पर ही मामला दर्ज करवा दिया गया । सरकार को चेतावनी  देते हुए कहा कि वह पंजाब सरकार को आरोपियों को पकडऩे और ज़हरीली शराब को बंद करने के लिए एक सप्ताह का समय देती है यदि इस समय दौरान सरकार पर कोई असर नही हुआ तो वह मजबूरन हाईकोर्ट जायेगें और तब तक केस लड़ेंगे जब तक इन लोगों को न्याय नही मिल जाता और आरोपी जेल नही पहुंचते ।इन आरोपियों पर धारा 302 लगनी चाहिए के बारे में बादल ने कहा यह कत्ल है ना कि हादसे वाली मौत। मुआवजे के मामले में उन्होंने कहा कि हर परिवार को 25 लाख रुपये मुआवजा और परिवार के एक मेंबर को सरकार की तरफ से नौकरी देनी चाहिए ।शराब माफिया द्वारा 5600 करोड़ रुपये  नुकसान जाली शराब की फैक्टरियों द्वारा किया जा रहा है ।

मृतकों के परिवार के साथ उन्होंने ने शोक व्यक्त किया और उन्हें सांत्वना दी ।इस मौके पर उनके साथ हल्का इंचार्ज जंडियाला गुरु मलकीयत सिंह ए आर , हल्का अमृतसर के दक्षिण के इंचार्ज तलबीर सिंह गिल संदीप सिंह ए आर, सुखराज सिंह मुच्छल, मनजिंदर सिंह भीरी, सुखराज सिंह मुच्छल, अमरीक।सिंह सोढी,व अन्य हाजिऱ थे ।