गिद्दड़बाहा में 30 जून तक लगा लॉकडाऊन, कोरोना ने ली संत की जान

श्री मुक्तसर साहिब (उत्तम हिन्दू न्यूज): पंजाब में कोरोना का कहर जारी है। इसी कहर के बीच जिला मुक्तसर प्रशासन ने मंडी गिद्दड़बाहा को चार दिनों के लिए मुकम्मल तौर पर बंद करने का फैसला किया है। दरअसल यहां एक ही परिवार के आठ सदस्यों की कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। डीसी एमके अराविंद कुमार ने आज आदेश जारी कर गिद्दड़बाहा को 26 जून दोपहर 12 बजे से लेकर 30 जून को सुबह 5 बजे तक सम्पूर्ण लॉकडाउन कर दिया है। एसडीएम ओम प्रकाश ने बताया कि लॉकडाऊन के दौरान मेडीकल एमरजैंसी, दूध सप्लाई व आरओ पानी वाले अपनी सेवाएं दे सकेंगे। 


उधर, बस्सी पठाना के ऊषा माता मंदिर के प्रमुख स्वामी महादेव का देहावसान कोरोना के कारण हुआ है। 72 वर्षीय स्वामी महादेव संत समाज पंजाब और जम्मू कश्मीर के अध्यक्ष भी थे। कोरोना संक्रमित स्वामी का उपचार लुधियाना के सतगुरु प्रताप सिंह अस्पताल में चल रहा था। वहीं उन्होंने अंतिम सांस ली। 

प्रशासन ने कड़ी सुरक्षा में शुक्रवार की सुबह ही उनका अंतिम संस्कार लुधियाना में ही कर दिया। महामारी के चलते उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शनों के लिए भी नहीं रखा जा सका। इससे श्रदालुओं में निराशा भी रही। इसी प्रकार कोरोना वायरस ने सीमावर्ती इलाके अटारी में भी दस्तक दे दी है। यहां अटारी स्थित मेडिकल स्टोर के मालिक की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई है। उसे निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।