वकीलों व किसान मज़दूर सँघर्ष कमेटी ने पुलिस की ढीली कार्रवाई के चलते किया अलग-अलग थानों का घेराव


उत्तम हिंदू न्यूज
अमृतसर,जंडियाला गुरु/दीपक मेहरा
 रामबाग थाने के बाहर आज वकीलों ने पुलिस पर धक्केशाही का आरोप लगाते हुए थाना घेरकर रोष प्रदर्शन किया। इस दौरान थाना के बाहर हालात कई बार लोगों के साथ झड़प जैसे बनते दिखे। वकीलों का आरोप था कि वकील राहुल सेठी पर हमला करने वालों पर पुलिस ने मात्र 323 तथा 324 की धारा लगाई है जबकि राहुल सेठी की दोनों आंखों पर तेजधार हथियार के निशान हैं। अगर उसने पगड़ी न बांधी होती तो शायद उसके सिर में भी गंभीर चोटें लग जाती। पुलिस हमलावरों को सरक्षण देने का काम कर रही है। इस दौरान सड़क को दोनों तरफ से वाहन व रस्सी इत्यादि लगाकर रोक दिया गया। इन हालात में वह लोग भी परेशान हुए जो अस्पताल इत्यादि में मरीजों को ले जा रहे थे। 
 रोष प्रदर्शन कर रहे वकीलों ने उन्हें भी रास्ता देने से मना कर दिया। यहां तक की पुलिस वाले भी उनके रोके रास्ते से नहीं निकल सके। जबकि थाना के बाहर प्रदर्शन में पुलिस भी असहया होकर सारा प्रदर्शन देखती रही। दूसरी ओर पुलिस अधिकारी ने इस मामले में एमएलआर आने की बात कहते हुए कहा कि जब मेडिकल लीगल रिपोर्ट आएगी उसके बाद ही धारा को बढ़ाया जा सकता है। इस मौके एडवोकेट लवली शर्मा, एडवोकेट रमन चौधरी, युवराज, मलकीयतसिंह, गगन राणा, विनय मल्होत्रा, लखविंदर सिंह, एडवोकेट गौरी, बंटी रंधावा इत्यादि थे।
इसी तरह थाना जंडियाला गुरु के अंतर्गत आते गांव धारड़ में गोली चलाने का मामला सामने आया है। इस संबंधी जानकारी देते शिकायतकर्ता सतनाम सिंह पुत्र हरदयाल सिंह निवासी गांव धारड़ ने बताया कि वह जेसीबी चलाने का काम करता है। उसका उसी गांव जगरूप सिंह पुत्र भजन सिंह ,अजमेर सिंह पुत्र मंगल सिंह ,गुरभेज सिंह पुत्र लखविंदर सिंह के साथ खेत की मिट्टी को लेकर झगड़ा चल रहा था। उक्त चारों का कहना है कि सतनाम सिंह ने हमारे खेत मे से ज्यादा मिट्टी उठाई है और ज्यादा मिट्टी उठाई केऔर पैसे देने हैं। इस मामले को लेकर सतनाम सिंह ने लिखित शिकायत पुलिस चौकी जंडियाला गुरु को करीब डेढ़ माह पहले दी थी। गत रात करीब 9 बजे उक्त आरोपियों ने अपने 15 -20 अज्ञात व्यक्तियों के साथ आकर फायर किए जिससे हमने मुश्किल से अपनी जान बचाई ।
इस संबंधी किसान मजदूर सँघर्ष कमेटी ज़ोन खडूर साहिब दयाल सिंह मियांविंड ने बताया कि पुलिस मौके पर जाकर सारी स्तिथि को देखकर आई लेकिन बावजूद इसके पुलिस ने अब तक आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नही की। जिसके चलते उनको मजबूरन थाना जंडियाला गुरु में धरना लगाना पड़ा । उन्होंने कहा कि जब तक हमे इंसाफ नही मिलता यह धरना जारी रहेगा। 
इस मामले को लेकर एसएचओ जंडियाला गुरु हरचंद सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि इनके द्वारा लगाए गए आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है। पुलिस पार्टी मौके पर जाकर मामले की जांच की है ,जिसमे शिकायतकर्ता द्वारा लगाए गए आरोपों में कोई सच्चाई नही है ।