Monday, September 24, 2018 05:21 PM

कानपुर: दोस्तों ने करी थी सगे भाईयों की थी हत्या

कानपुर (उत्तम हिन्दू न्यूज): उत्तर प्रदेश में कानपुर के काकादेव क्षेत्र में पिछले दिनो सगे भाईयों की हत्या के पीछे नस्लीय टिप्पणी किये जाने की बात सामने आयी है। पुलिस ने हत्या में शामिल दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि प्रमुख आरोपी की तलाश की जा रही है। 

पुलिस सूत्रों ने सोमवार को बताया कि काकादेव के अंतर्गत स्थित एक पब्लिक स्कूल के पास लावारिस कार मिली थी। कार अगली सीटों पर फैले खून से पुलिस को बड़ी वारदात किये जाने का अंदेशा था। शक के आधार पर पुलिस ने जांच शुरू की तो शनिवार की रात जिस जगह कार बरामद हुई थी,उसके पास ही एक खाली प्लाट में खुदाई कराते हुए पुलिस ने सगे भाईयों के शवों को बरामद कर दिया। मृतकों की शिनाख्त प्रिंस व मोनू सिंह के रूप में हुई। 

उन्होने बताया कि मृतकों की फोन काल डिटेल निकालने पर पता चला कि आखिरी बार उनकी कल्याणपुर थानाक्षेत्र में रहने वाला अमर थापा के अलावा इलाके के रहने वाले आकाश और शुभम से बातचीत हुई थी। पुलिस ने रविवार रात आकाश अाैर शुभम को रावतपुर क्रासिंग के पास धर दबोचा जब वह जिले से भागने की तैयारी कर रहे थे। 
गिरफ्तार युवकों ने बताया कि मृतक भाईयों के उनके साथ दोस्ताना संबंध थे। शराब के नशे में उन्होने नेपाल के मूल निवासी अमर थापा को नस्लीय टिप्पणी की थी जिसके बाद उसने कार में बैठे भाईयों को मारने की साजिश रची जिसमें उन्हे भी शामिल कर लिया। इलाके में सुनसान जगह पर बहाने से ले जाकर ईंट से कूचकर उनकी हत्या कर दी फिर शवों को खाली प्लाट में दफन कर दिया। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।