इंस्पेक्टर निर्मला बुरा यूएसए वल्र्ड पुलिस गेम्स-2019 में गोल्ड मेडल हासिल कर पहुंची जींद

जींद (सन्नी मग्गू) - कैनेडा कॉमन वेल्थ चेम्पियनशिप 2007 कुश्ती में गोल्ड मेडल व दिल्ली कॉमन वेल्थ गेम्स 2010 में सिल्वर मेडल, यूएसए वल्र्ड पुलिस गेम्स 2017 में गोल्ड मेडल व यूएसए वल्र्ड पुलिस गेम्स 2019 में गोल्ड मेडल हासिल करने वाली जींद पुलिस में तैनात महिला इंस्पेक्टर निर्मला बुरा ने शुक्रवार को एसएसपी अश्विन शैणवी से कार्यालय में मुलाकात की। इस दौरान डीएसपी पुष्पा खत्री भी मौजूद रही। एसएसपी ने अंतर्राष्ट्रीय कुश्ती खिलाड़ी को खेल में मुकाम हासिल करने पर शुभ कामनाएं दी और उनके सुखद भविष्य की कामना की। एसएसपी ने महिला इंस्पेक्टर को कहा कि वह कुश्ती खेल में पुलिस विभाग के लिए गौरव हैं और भविष्य के लिए भी जो सपने संजोए हैं उन्हें पूरा करने का आशीर्वाद दिया।

अंतर्राष्ट्रीय कुश्ती खिलाड़ी इंस्पेक्टर निर्मला बुरा ने कहा कि एसएसपी जींद के सहयोग व आशीर्वाद से उन्हें बहुत प्रेरणा मिली हैं। घिराय जिला हिसार गांव की रहने वाली निर्मला बुरा ने बताया कि उन्हें कुश्ती की प्रेरणा अपने पिता ईश्वर सिंह से मिली। उनके दादा स्व. प्रताप सिंह भी कुश्ती के बड़े खिलाड़ी थे और कुश्ती के समय मैदान में ही उनकी गर्दन टूटने के कारण मुत्यु हो गई थी। पिता ने दादा के सपने को संजोए रखा और मुझें कुश्ती खेल के लिए मैदान में उतारा। खेल के मैदान में कदम रखते ही फिर मैने पिछे मुड़ कर नहीं देखा और जिला स्तर से लेकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर गोल्ड, सिल्वर, कांस्य के सैकड़ों पदक हासिल किए। निर्मला बुराने बताया कि कैनेडा कॉमन वेल्थ चेम्पियनशिप 2007 कुश्ती में गोल्ड मेडल हासिल करने के बाद सन 2008 में हरियाणा सरकार ने पुलिस विभाग में सब इंस्पेक्टर पद पर ज्वायनिंग दी।

 उसके बाद पुलिस विभाग में रहकर कुश्ती में दिल्ली कॉमन वेल्थ गेम्स 2010 में सिल्वर मेडल, दक्षिण अफ्रीका कॉमन वेल्थ चेम्पियनशिप 2013 में गोल्ड मेडल, यूएसए वल्र्ड पुलिस गेम्स 2017 में गोल्ड मेडल व यूएसए वल्र्ड पुलिस गेम्स 2019 में गोल्ड मेडल हासिल किया। यूएसए वल्र्ड पुलिस गेम्स 2017 में गोल्ड मेडल हासिल करने के बाद हरियाणा पुलिस में सब इंस्पेक्टर से इंस्पेक्टर पद पर पदोन्नित मिली। इसके बाद 2017 में जींद पुलिस विभाग में डयूटी पर तैनाती रही और कुश्ती खेलना जारी रहा। अब यूएसए वल्र्ड पुलिस गेम्स 2019 में गोल्ड मेडल जितने के बाद आज शुक्रवार को जींद प्रवर पुलिस अधीक्षक से मुलाकात की और उन्होंने शुभकामनाएं दी। वहीं एसएसपी ने कहा कि जींद पुलिस के लिए गौरव की बात है कि निर्मला जैसे होनहार खिलाड़ी पुलिस विभाग को खेलों के माध्यम से गौरवान्वित कर रहे हैं।