जालंधर का युवक बना शार्प शूटर, हैदराबाद से लाैटे दोस्त के साथ बड़े बिजनेसमैनों से मांगने लगा फिराैती, दोनों गिरफ्तार 

मोगा (दविंदर पाल सिंह): सीआईए स्टाफ धर्मकोट ने गैंगस्टर सुक्खा लंमे ग्रुप के फिरौती के लिए अमीर लोगों को निशाना बनाने वाले दो शार्प शूटरों को नशीली गोलियों समेत गिरफ्तार किया। एसएसपी हरमनबीर सिंह गिल और इंस्पेक्टर किक्कर सिंह के मुताबिक ये गैंगस्टर विदेश से व्हाट्सएप पर फिरोजपुर, फरीदकोट, मोगा और जगराओं के अमीर लोगों पर कारोबारियों की पहचान करके फिरौती के लिए फोन पर धमकी देते थे। फिरौती से इंकार करने पर ये शार्प शूटर उक्त व्यक्ति पर हमला करते थे। दोनों आरोपियों ने खुलासा किया है कि उन्होंने 31 दिसंबर को तलवंडी भाई में एक मनी एक्सचेंजर पर फायरिंग की थी और दो अन्य सुनारों की रेकी की हुई थी। वह जगराओं में एक जौहरी पर गोलीबारी करने जा रहे थे कि पुलिस ने उन्हें वारदात से पहले दबोच लिया। दोनों शूटरों का अदालत ने 4 दिन का पुलिस रिमांड मंजूर किया है।

गिरफ्तार आरोपी की पहचान रेशम सिंह निवासी सुल्तानपुर लोधी और साहिल कुमार निवासी मकसूदां रोड, जालंधर के तौर पर हुई है। उनके पास से 3 पिस्तौलें 12 बोर, 32 बोर और 315 बोर समेत 15 कारतूस और 1100 नशीली गोलियां बरामद हुई हैं। आरोपी रेशम सिंह हैदराबाद में हेयर ड्रेसर की नौकरी करता था। वह कनाडा रहते प्रभ नाम के नौजवान के साथ संपर्क में गैंगस्टर सुक्खा लंमे ग्रुप के इटली देश में रहते परमिंदर सिंह गांव शमशाबाद तहसील फिल्लौर के माध्यम से संपर्क में आया था। वेस्टर्न यूनियन ट्रांसफर के जरिये उसको अब तक 90 हजार रुपये मिल चुके हैं।  आरोपी साहिल कुमार उसका बचपन का मित्र था।