धौलासिद्ध विद्युत परियोजना प्रभावितों को उचित मुआवजा देगी सरकार: जयराम

शिमला (उत्तम हिन्दू न्यूज)- हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि धौलासिद्ध पनविद्युत परियोजना से कुल 427 परिवार प्रभावित होगें जबकि चार परिवार विस्थापित होगें और सरकार इन्हें समुचित मुआवजा देगी।ठाकुर ने राज्य विधानसभा में कांग्रेस विधायक राजेद्र राणा और भाजपा विधायक रमेश धवाला के प्रश्नों के जबाव पर यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस परियोजना के लिए अतिरिक्त 124.41 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह परियोजना हमीरपुर-कांगड़ा जिलों की सीमा पर है जिसकी क्षमता 66 मेगावाट है तथा इसकी अनुमानित लागत 668 करोड़ रुपये है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिक दाम बढ़ने से जमीन अधिग्रहण में दिक्कत आ रही हैं। केंद्र सरकार ने भेजी गई विस्तृत परियोजना रिपोर्ट को नमंमजूर कर दिया था लेकिन इस पर आगे बातचीत चल रही है और सरकार इस परियोजना को जल्द चालू करना चाहती है। उन्होंने सदन के सदस्यों से अनुरोध किया कि गत 22 वर्षों से यह परियोजना अटकी हुई है। परियोजना के पूर्ण होने पर लोगों को फायदा होगा।


श्री ठाकुर ने अनुसार प्रभावित परिवारों को दी जाने वाली मुआवजा राशि का निर्धारण अभी नहीं हुआ है। लेकिन सरकार नियमानुसार निर्धारण होने के उपरांत मुआवजा प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि कुछ गुंडा तत्वो ने इस जमीन को खरीद लिया है जो वहां पर विरोध भी कर रहे है। लेकिन सरकार इस परियोजना को सिरे चढ़ाएगी।