भारतीय हॉकी टीम ने कोरिया को 2-1 से पीटा

जिनचियोन (उत्तम हिन्दू न्यूज): महिला हॉकी टीम की स्ट्राइकर लालरेमसियामी और नवनीत कौर के शानदार गोल की मदद से भारत ने अपने दक्षिण कोरिया दौरे का आगाज़ मेजबान टीम को 2-1 से हराकर किया। भारतीय टीम का यह दौरा आगामी एफआईएच महिला सीरीज फाइनल हिरोशिमा 2019 की तैयारी का हिस्सा है। टीम का मुख्य उद्देश्य सीरीज फाइनल हिरोशिमा 2019 से पहले अपनी तैयारियों की समीक्षा करना हैं जो 15 जून से 23 जून तक चलेगा। भारतीय टीम ने इससे पहले वर्ष के शुरुआत में स्पेन का दौरा किया था और मेजबान देश स्पेन तथा आयरलैंड के खिलाफ मुकाबले खेले थे।

टीम ने दौरे पर दो मुकाबलों में जीत हासिल की थी और तीन मुकाबले ड्रॉ रहे थे जबकि एक में उसे हार का सामना करना पड़ा था। टीम ने अप्रैल में मलेशिया का दौरा भी किया था जहां टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए एक भी मुकाबला नहीं हारा था। मुकाबले में भारत को पहले ही क्वार्टर में मिले पेनल्टी कार्नर को गोल में तब्दील करने से चूकीं स्ट्राइकर लालरेमसियामी ने 10वें मिनट में शानदार गोल कर टीम को 1-0 से बढ़त दिला दी थी। इसके बाद मैच का दूसरा गोल भी भारतीय टीम की तरफ से 40वें मिनट में नवनीत कौर ने किया।

नवनीत के इस गोल के बाद भारत ने कोरिया पर दबाव बनाते हुए 2-0 की बढ़त हासिल कर ली थी। मेजबान टीम को मुकाबले में पांच पेनल्टी कार्नर मिले जिसमें आखिरी पेनल्टी कार्नर में शिन हयेजेओंग 48वें मिनट में गोल करने में कामयाब हो गयीं। भारतीय टीम की गोलकीपर सविता ने पूरे मैच में विपक्षी टीम के कई शानदार अटैक रोके जिसके वजह से टीम की बढ़त कायम रह सकी। भारत के प्रदर्शन को लेकर टीम के कोच शुअर्ड मरीन ने कहा, “यह दौरे का पहला मुकाबला था। नतीजे अच्छे रहे लेकिन मेरा मानना है कि प्रदर्शन में ओर अधिक सुधार किया जा सकता है। हमने कुछ नयी योजनाएं बनाई थी और उन्हें नियंत्रण करना बेहद दिलचस्प था।

अगले मुकाबले में हमारी प्राथमिकता टेक्निकल खेल में अच्छा प्रदर्शन करने कि होगी ताकि हम मुकाबले को तेज गति से खेल सके।” उल्लेखनीय है कि टीम शनिवार को तीन मैचों की सीरीज के लिए दक्षिण कोरिया के दौरे पर रवाना हुई थी। टीम का अगला मुकाबला 22 मई को हैं।