मुंबई के होटल में निर्दलीय सांसद ने की सुसाइड  

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज)- दादरा-नगर हवेली के निर्दलीय सांसद मोहन देलकर ने सोमवार को दक्षिण मुंबई के एक होटल में आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी पाकर जब पुलिस माैके पर पहुंची तो माैके से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ। सुसाइड नोट गुजराती भाषा में लिखा गया था। आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चला है। होटल में मुंबई की मरीन ड्राइव पुलिस मौजूद है। कागजी कार्रवाई के बाद लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जाएगा।

मरीन ड्राइव पर स्थित होटल सी ग्रीन में ठहरे हुए थे सांसद मोहन डेलकर।

मोहन डेलकर की उम्र 58 साल थी। वह साल 1989 में दादर और नागर लोकसभा क्षेत्र से जीतकर पहली बार लोकसभा पहुंचे थे। अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत उन्होंने ट्रेड यूनियन नेता के तौर पर थी। वे कांग्रेस और बीजेपी के टिकट पर सांसद का चुनाव लड़ चुके थे, बाद में उन्होंने भारतीय नवशक्ति पार्टी (बीएनपी) का गठन किया था।

सांसद की बॉडी मिलने के बाद होटल में तफ्तीश करने जाती हुई पुलिस।

डेलकर ने 1998 में भाजपा के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की। कुछ समय बाद उन्होंने भाजपा छोड़ दी और 1999 में निर्दलीय और 2004 में भारतीय नवशक्ति पार्टी के उम्मीदवार के रूप में जीते। इसके बाद 4 फरवरी 2009 को दोबारा कांग्रेस में शामिल हुए और 10 साल बाद यानी 2019 में कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद फिर से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में लोकसभा सदस्य बने। इसके बाद अक्टूबर 2020 में डेलकर JDU में शामिल हो गए थे।