पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की तबीयत में सुधार, सभी चेकउप के बाद एम्स से किए गए डिस्चार्ज

नई दिल्ली(उत्तम हिन्दू न्यूज): देश के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को दिल्ली एम्स से छुट्टी मिल गई है। बताया जा रहा है कि वह मंगलवार दोपहर अपने घर के लिए रवाना हो गए हैं। उन्‍हें 10 मई की रात को सीने में दर्द की शिकायत के बाद एम्‍स में भर्ती करवाया गया था। यहां उन्‍हें कार्डियक इन्‍टेसिव केयर यूनिट में रखा गया था। हालत सुधरने के बाद, उन्‍हें प्राइवेट रूम में शिफ्ट किया गया। जानकारी के अनुसार डॉक्टर नितिश नायक की देखरेख में तबीयत सुधरने के बाद उन्‍हें डिस्‍चार्ज करने का फैसला हुआ।

एम्‍स से निकली पूर्व पीएम की कार।

एम्‍स सूत्रों के मुताबिक, नई दवा का रिएक्शन होने के चलते पूर्व प्रधानमंत्री को बैचेनी महसूस होने लगी थी। उन्‍होंने बताया, दवा लेने के बाद फैब्राइल रिक्शन होने के कारण उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, ताकि वह डॉक्‍टर्स की निगरानी में रह सकें। उनका बुखार भी कंट्रोल में है। ऐहतियात के तौर पर डॉ सिंह का कोरोना वायरस टेस्‍ट भी कराया गया था। उसकी रिपोर्ट भी नेगेटिव आई है।

मैं ऐसा प्रधानमंत्री नहीं था जो ...

जानकारी के लिए आपको बता दें कि मनमोहन को हार्ट संबंधी परेशानियां हैं। दो बार उनकी बाईपास सर्जरी हो चुकी है। 1990 में यूनाइटेड किंगडम में उनकी पहली बार बाईपास सर्जरी हुई थी। 2004 में एस्‍कॉर्ट्स में एंजियोप्‍लास्‍टी हुई। साल 2009 में वह एम्‍स में भर्ती हुए थे। तब उनकी ब्‍लॉक्‍ड आर्टरीज को ओपन करने के लिए एक और बाईपास सर्जरी की गई। डॉ. मनमोहन सिंह डायबिटीज के भी मरीज हैं।