कहीं आपका Aadhaar Card भी Invalid तो नहीं, ऐसे जानिए

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): अगर आपने अपने आधार कार्ड को दुकान से लैमिनेशन कराया है या फिर उसे प्लास्टिक कार्ड के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए। UIDAI ने सचेत किया है कि ऐसा करने वाले लोगों को भारी नुकसान झेलना पड़ सकता है। अथॉरिटी का मानना है कि ऐसे आधार कार्ड अवैध हैं। UIDAI ने कहा है कि ऐसा करने से लोगों की निजी जानकारी चोरी हो सकती है। इतना ही नहीं, आधार कार्ड का क्यूआर कोड काम करना बंद भी कर सकता है। अथॉरिटी ने ये भी साफ किया है कि प्लास्टिक आधार या स्मार्ट आधार कार्ड इस्तेमाल ना करें।

UIDAI cautions against use of laminated Aadhaar smart cards | DD News

कौन से आधार वैलिड?
अथॉरिटी ने अपने बयान में कहा है कि ओरिजनल आधार के अलावा किसी साधारण पेपर पर डाउनलोड किया गया आधार या एमआधार पूरी तरह से वैलिड है। ऐसे में स्मार्ट आधार के चक्कर में पड़ने की जरूरत नहीं है। ये प्‍लास्टिक या पीवीसी शीट पर आधार की प्रिन्टिंग के नाम पर लोगों से 50 रुपये से लेकर 300 रुपये तक वसूले जा रहे हैं। कहीं-कहीं तो इससे भी ज्‍यादा चार्ज लिया जा रहा है। UIDAI ने लोगों से इस तरह की दुकानों या लोगों से बचने की और उनके झांसे में न आने की सलाह दी है।

How To Your Check Aadhaar Card Status After Enrolment

मुफ्त में डाउनलोड हो जाता है आधार
UIDAI ने कहा है कि कलर्ड प्रिंट वाले आधार की कोई जरूरत नहीं है, ब्लैक एंड व्हाइट आधार हर जगह पूरी तरह से वैध है। ये भी साफ कहा है कि आधार को लेमिनेट कराने या उसका प्लास्टिक आधार बनाने की भी कोई जरूरत नहीं है। अगर आपका आधार खो जाता है या फट जाता है तो उसे मुफ्त में eaadhaar.uidai.gov.in से फिर से डाउनलोड कर सकते हैं और हर जगह इस्तेमाल कर सकते हैं।