गेम में Bikini पहनने से रोका तो इन वॉलीबॉल खिलाड़ियों ने टूर्नामेंट का ही कर दिया बॉयकॉट, जानें क्या है पूरा मामला

12:14 PM Feb 23, 2021 |

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : जर्मनी के बीच वॉलीबाल स्टार्स कार्ला बोर्गर और जूलिया स्यूड ने कहा कि वे अगले महीने कतर में होने जा रहे टूर्नामेंट का बहिष्कार कर रहे हैं। इन खिलाड़ियों का कहना है कि ये एकमात्र ऐसा देश है जहां प्लेयर्स को खेल के कोर्ट पर बिकिनी पहनने से मना किया जाता है। 

एक जर्मन रेडियो स्टेशन के साथ बातचीत में कार्ला ने कहा, 'हम वहां अपना काम करेंगी, लेकिन हमें अपने काम के लिए जरूरी कपड़े पहनने से रोका जा रहा है।' उन्होंने आगे कहा, 'यह शायद इकलौता देश और इकलौता टूर्नमेंट है जहां सरकार बता रही है कि हमें अपना काम कैसे करना चाहिए। हम इसकी आलोचना करते हैं।'

एक ब्रिटिश अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, कतर में FIVB वर्ल्ड टूर इवेंट की मेजबानी कर रहा है लेकिन कोर्ट पर कपड़ों को लेकर वहां काफी सख्त नियम बनाए गए हैं। इसी वजह से वर्ल्ड चैंपियनशिप सिल्वर मेडलिस्ट बॉर्गर और और उनकी डबल्स पार्टनर स्यूड ने इवेंट से हटने का फैसला किया है।

यह टूर्नमेंट मार्च में होना है। पहली बार दोहा में महिलाओं का वर्ल्ड टूर इवेंट हो रहा है। हालांकि इस शहर में पुरुषों के लिए वर्ल्ड टूर सात साल से हो रहा है। महिला खिलाड़ियों को आमतौर पर पहने जाने वाली बिकीनी के स्थान पर शर्ट और लंबी पैंट पहनने को कहा गया है। फेडरेशन ऑफ इंटरनैशनल वॉलीबॉल ने इस नियम को 'मेजबान देश की संस्कृति और परंपराओं के लिए सम्मान' कहा है।

कतर एक परंपरावादी इस्लामिक देश है जहां महिलाओं से परंपरागत रूप से कपड़े पहनने की उम्मीद की जाती है। हालांकि बड़ी संख्या में विदेशी कर्मचारी और टूरिज्म को बढ़ावा देने का अर्थ है कि इसका अनुपालन पूरी तरह से नहीं होता है। यहां महिलाओं को बिकीनी और कतर के स्थानीय लोगों को स्विमिंग पूल या कुछ प्राइवेट बीच पर देखना असामान्य नहीं है।

जर्मन वॉलीबॉल फेडरेशन ने खिलाड़ियों के इस फैसले का समर्थन किया है। खिलाड़ियों की चिंता यह भी है कि इस महीने में दोहा में तापमान 30 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है जिससे खिलाड़ियों को परेशानी हो सकती है।

बॉर्गर ने Deutschlandfunk से बातचीत में सवाल पूछा कि क्या कतर मेजबानी के लिए सही स्थान है। उन्होंने आगे कहा, 'उन्होंने कहा कि हमारा सवाल है कि क्या वहां टूर्नमेंट करवाने की कोई जरूरत भी है।'