प्रवासियों की मदद पर मुझे हिरासत में लिया गया : दिल्ली कांग्रेस प्रमुख

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): दिल्ली कांग्रेस प्रमुख अनिल कुमार चौधरी ने आरोप लगाया है कि दिल्ली पुलिस ने उन्हें पूर्वी दिल्ली स्थित उनके आवास पर हिरासत में लिया है। चौधरी ने आरोप लगाया कि उन्हें राज्य में प्रवासियों की मदद करने के लिए हिरासत में लिया गया है। चौधरी ने एक बयान में कहा, "एसएचओ ने पूछा - क्या गाजीपुर सीमा पर गए थे, जहां बड़ी तादाद में प्रवासी जुटे हुए थे? तो, प्रवासियों की मदद करना अपराध बन गया।"

दिल्ली पुलिस के सूत्र ने कहा, "वह पिछले दो दिनों में कई प्रवासी मजदूरों को दिल्ली-यूपी की सीमा पर लेकर आए। कोई सोशल डिस्टेंसिंग नहीं बरती जा रही थी। इससे आगे समस्याएं पैदा हो सकती हैं।" कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी शनिवार को दिल्ली-फरीदाबाद सीमा के पास सुखदेव विहार फ्लाईओवर पर प्रवासियों के एक समूह से मुलाकात की थी।

राहुल गांधी ने महिलाओं और बच्चों सहित 20 प्रवासियों के एक समूह के साथ एक घंटे मुलाकात की थी। कांग्रेस ने बाद में आरोप लगाया कि पुलिस ने मजदूरों को यह कहते हुए एहितियाती हिरासत में लिया है कि उन्हें 'ऊपर से' ऐसा करने का निर्देश मिला है। लेकिन, बाद में पार्टी ने उन्हें उनके संबंधित स्थान पर भेजने के लिए परिवहन की व्यवस्था की।