हैदराबाद डबल ब्लास्ट : 2 को सजा-ए-मौत, एक को उम्रकैद

हैदराबाद (उत्तम हिन्दू न्यूज) : हैदराबाद में 2007 में हुए दोहरे बम विस्फोट मामले में यहां की एक अदालत ने सोमवार को दो दोषियों अनीक सईद और इस्माइल चौधरी को फांसी की सजा सुनाई। अदालत ने इसी मामले में एक अन्य अपराधी तारिक अंजुम को आजीवन कारावास की सजा भी सुनाई। हैदराबाद में 25 अगस्त 2007 को हुए इस विस्फोट में 44 लोगों की मौत हो गई थी और 68 लोग घायल हो गए थे। इन दो शक्तिशाली बमों में से एक को एक भोजनालय के बाहर व दूसरे को हैदराबाद के ओपेन एयर थिएटर में रखा गया था। 

साल 2007 में हैदराबाद में पहला बम धमाका गोकुल चाट भंडार में हुआ था जिसमें 32 लोगों की मौत हो गई थी जबकि दूसरा ब्लास्ट शहर के व्यस्त टूरिस्ट स्पॉट लुम्ब‍िनी पार्क में हुआ था जिसमें 10 लोगों की जान चली गई थी।
कोर्ट ने अंजुम को शहर के एक मशहूर खाने पीने के स्थान और एक ओपन एयर थियेटर में विस्फोटों को अंजाम देने में उसकी भूमिका के लिए दोषी करार दिया हुआ है।

Related Stories: