होंडा कार्स ने भारत में अबतक 15 लाख कारें बेची

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड (एचसीआइएल) ने देश में 15 लाखवीं कार बेचने की सफलता हासिल की। होंडा ने वर्ष 1998 में अपने प्रीमियम सेडान होंडा सिटी के साथ भारतीय कार बाजार में कदम रखा था। कंपनी विभिन्न सेगमेंट्स में आठ मॉडलों की पेशकश करती है। कंपनी का देश भर में 230 शहरों में 341 बिक्री और वितरण नेटवर्क इकाइयां हैं। कंपनी ने एक बयान में कहा कि प्रीमियम सेडान मॉडल का कंपनी की समग्र बिक्री में सबसे अधिक योगदान रहा। 

इसके बाद कॉम्पैक्ट फैमिली सेडान अमेज और प्रीमियम हैचबैक होंडा जैज अगले दो प्रमुख योगदानकर्ता मॉडल्स रहे। विभिन्न सेगमेंट्स में आठ मॉडलों के एक समृद्ध पोर्टफोलियो के साथ होंडा के मॉडल्स टिकाऊपन, विश्वसनीयता और ईंधन दक्षता की अपनी स्थापित खूबियों के अलावा उन्नत डिजाइन और टेक्नोलॉजी के साथ सुदृढ़ रूप से जुड़े हुए हैं।

बयान के अनुसार, जनवरी 1998 में पहली कार की बिक्री के साथ, एचसीआइएल ने मार्च 2012 (14 साल 3 महीने) में पांच लाख बिक्री का कीर्तिमान स्थापित किया। अगली पांच लाख बिक्री (कुल 10 लाख) का सफर अक्टूबर 2015 (3 साल 7 महीनों) में पूरा हुआ और नई पांच लाख (कुल 15 लाख) की बिक्री का सफर महज 34 महीनों में पूरा हो गया।

कंपनी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और निदेशक, राजेश गोयल ने कहा, "15 लाख ग्राहकों तक पहुंच बनाना हमारे लिए गौरव का पल है। भारतीय बाजार में कामयाबी होंडा की उन्नत डिजाइन और टेक्नोलॉजी, विश्वसनीयता और पूर्ण-दक्षता के साथ जुड़ी हुई है, जोकि हमारे डीएनए की प्रमुख खासियत हैं।" बयान के अनुसार, एचसीआइएल ने मौजूदा वित्त वर्ष में अप्रैल-अगस्त 2018 के दौरान 79,599 कारों की बिक्री की है। अप्रैल-अगस्त 2017 की समान अवधि के 73,012 कारों के मुकाबले इसमें नौ प्रतिशत से अधिक की संचयी वृद्धि दर्ज की गई है।

Related Stories: