Tuesday, February 19, 2019 08:23 PM

शिकागो में बोले मोहन भागवत- हजारों साल से प्रताड़ित हो रहे हिंदू, एकजुट होना होगा

न्यूयॉर्क (उत्तम हिन्दू न्यूज) : राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने अमेरिका के शिकागो में आयोजित विश्व हिंदू सम्मेलन को संबोधित करते हुए हिन्दु समुदाय से एकजुट होने की अपील की। भागवत ने कहा कि हिंदू समाज एकजुट होकर मानव कल्याण की दिशा में काम करे। 

शिकागो में धर्म संसद में स्वामी विवेकानंद के ऐतिहासिक भाषण की 125वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित विश्व हिंदू सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने ये बातें कहीं। इस सम्मेलन में करीब 2,500 लोगों ने शिरकत की। भागवत ने ये भी कह दिया कि हिन्दू समाज के लोग हजारों वर्षों से प्रताड़ित हो रहे हैं क्योंकि वे अपने मूल सिद्धांतों का पालन करना और आध्यात्मिकता को भूल गए हैं। भागवत ने जोर देकर कहा कि हमें एकजुट होना होगा। उन्होंने कहा कि पैसा ही सब कुछ नहीं होता. हमारे पास ज्ञान और बुद्धि है, लेकिन हमें अपने संस्कार नहीं भूलने चाहिए। हम अक्सर एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करने को भूल जाते हैंन

भागवत ने कहा कि हिन्दू समाज में प्रतिभावान लोगों की संख्या सबसे ज्यादा है, लेकिन वे कभी साथ नहीं आते हैं। भागवत ने साफ कहा कि हिन्दुओं का साथ आना अपने आप में मुश्किल है। बता दें कि 11 सितंबर 1893 को स्वामी विवेकानंद ने शिकागो में आयोजित विश्व धर्म संसद में ऐतिहासिक भाषण दिया था। जिसकी 125वीं वर्षगांठ के अवसर पर विश्व हिंदू सम्मेलन का आयोजन किया गया है। यह सम्मेलन 7-9 सितंबर के बीच रखा गया है। इस सम्मेलन में उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू भी शिरकत करेंगे।

देश की सबसे बड़ी और तेज WhatsApp News Service से जुड़ने के लिए हमारे नंब 7400043000 पर Missed Call दें। इस नंबर को Save करना मत भूलें।