ई-परिवहन सेवाएं शुरू करने वाला देश का पहला राज्य बना हिमाचल

शिमला (पी.सी. लोहमी): हिमाचल में अब किसी भी जिले में लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन पंजीकरण प्रमाण पत्र एवं परमिट सहित अन्य परिवहन सेवाओं के लिए  आर.टी.ओ कार्यालय जाने की जरूरत नहीं है। वीरवार से हिमाचल मेंं परिवहन विभाग ऑनलाइन होते हुए देश का पहला राज्य बना गया है। देश में हिमाचल पहला एक ऐसा रा’य बना है जहां पर लोगों का घर बैठे अब परिवहन सेवाएं मिलेगी। प्रदेश में लोगों को ऑनलाइन परिवहन सेवाएं देने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शिमला में रा’य परिवहन विभाग की ई-परिवहन व्यवस्था का शुभारम्भ किया। इस मौके पर मुख्मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने पहले ई-विधानसभाए उसके उपरांत ई-बजट और अब ई-केबिनेट की शुरूआत की है। ई-परिवहन भी इसी दिशा में महत्वपूर्ण पहल है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर ई-परिवहन व्यवस्था प्रचार साहित्य को भी जारी किया। 

परिवहन बिक्रम सिंह ने कहा कि शिमला और कांगड़ा जिले में दो पायलट परियोजनाएं शुरू की गई थी जिनमें खामियों को सुधारने के उपरांत पूरे प्रदेश में इस प्रणाली को क्रियान्वित किया गया है। इससे प्रदेश के लोगों को बेहतर परिवहन सेवा सुनिश्चित करने में सुविधा होगी। उन्होंने यह भी कहा कि हिमाचल देश पहला रा’य बन गया है कि जहां पर सभी जिलों में परिवहन
ऑनलाइन सेवाएं मिलेगी।

यह सेवाएं मिलेगी ऑनलाइन
-लर्नर, ड्राईविंग, कंडक्टर लाईसेंस संबधी सेवाएं
-लर्नर, ड्राईविंग, कंडक्टर लाईसेंस टेस्ट के लिए बुकिंग
-वाहनों की फिटनेस बुकिंग
-माल गाड़ी, टैक्सी, मैक्सी, बसें पीएसवी परमिट
-मालगाड़ी के लिए राष्ट्रीय परमिट
-स्टेज कैरिज परमिट संबधित सेवाएं
- फिटनेस प्रमाण पत्र डुप्लीकेट कॉपी
- टोकन टैक्स, एसआरटी, समग्र शुल्क का भुगतान

यह रहेगी पंजीकरण प्रमाण प्रत्र संबधी सेवाएं
सभी प्रकार के वाहनों के लिए एनओसी, स्वामित्व का हस्तांतरण, डुप्लीकेट
पंजीकरण प्रमाण पत्र, मोटरयान में परिवर्तन, पंजीकरण का नवीनीकरण

लर्निंग व ड्राइविंग लाइसेंस, पंजीकरण संबधित सेवाओं पर शर्त
-स्कैन  की गई तस्वीर और हस्ताक्षर 20 के.बी से कम आकार के
-स्कैन निवास प्रमाण पत्र अन्य दस्तावेज 199 केबी से कम आकार
 -स्कैन किए गए संबंधित प्रपत्र वाहन मालिक हस्ताक्षर के साथ 199 के.बी आकार

ऐसे प्राप्त करें ऑनलाइन सेवाएं
परिवहन विभाग की ऑनलाइन सेवाएं लेने के लिए विभाग की वैबसाइट पर जांए। इसके बाद ई-परिवहन व्यवस्था पर जाएं और आवश्यक सेवा का चयन करें  और ऑनलाइन फार्म भरें, आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें और फीस जमा करेंं। इसके साथ आर.टी.ओ, एस.डी.एम कार्यालय द्वारा अनुमोदन के बाद दस्तावेज का पोर्टल से प्रिंट लें, व्यक्ति  डी.जी लॉकर और एम-परिवहन ऐप में दस्तावेज डाउनलोड कर सुरिक्षत रख सकते  है। वहीं यदि ऑनलाइन फार्म भरने में कोई समस्या आता है तो वह विभाग के हैल्पलाइन नंबर में सुबह 10 से 5 बजे तक 0177-2654185 पर जानकारी हासिल कर सकते हैंं।