+

CDS जनरल बिपिन रावत को ले जा रहा हेलीकाप्टर क्रैश, पत्नी समेत 14 लोग थे सवार, 4 अधिकारियों की माैत, देखें वीडियो  

चेन्नई (उत्तम हिन्दू न्यूज)-तमिलनाडु के नीलगिरि जिले में बुधवार को सेना का एक हेलीकाप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें सवार सेना के कम से कम से चार अधिकार
CDS जनरल बिपिन रावत को ले जा रहा हेलीकाप्टर क्रैश, पत्नी समेत 14 लोग थे सवार, 4 अधिकारियों की माैत, देखें वीडियो  

चेन्नई (उत्तम हिन्दू न्यूज)-तमिलनाडु के नीलगिरि जिले में बुधवार को सेना का एक हेलीकाप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें सवार सेना के कम से कम से चार अधिकारियों की मौत हो गई। रक्षा सूत्रों ने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त हेलीकाप्टर में 14 लोग सवार थे, यह हेलीकाप्टर वेलिंगटन से सुलूर जा रहा था। रिपोर्टों में कहा गया है कि हेलीकाप्टर काटेरी पर्वतीय क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हुआ और सुलूर हवाईअड्डे से उड़ान भरते ही इसमें आग लग गई। सूत्रों ने बताया कि दुर्घटना स्थल से चार शव मिले हैं जो बुरी तरह से जले हुए हैं और उनकी पहचान नहीं की जा पा रही है। इस हादसे में गंभीर रूप से घायल और झुलसी हालत में मिले तीन अधिकारियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हेलीकाप्टर में सवार शेष सात लोगों के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिली है। अपुष्ट रिर्पाेटों में कहा गया है कि प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत भी इस हेलीकाप्टर में सवार थे। उनके बारे में अभी कुछ पता नहीं चल सका है। मौके पर राहत एवं बचाव अभियान चलाया जा रहा है।

 

 

 

Coronavirus: CDS Bipin Rawat, 3 Armed Services Chiefs To Brief Press At 6 PM

हेलिकॉप्टर में सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत, ब्रिगेडियर एल एस लिडेर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, एन के गुरसेवक सिंह, एनके जितेंद्र कुमार, L/NK विवेक कुमार, L/NK बी साय तेजा, हवलदार सतपाल सवार थे। बताया जा रहा है कि सीडीएस जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी एक कार्यक्रम में हिस्सा लेकर दिल्ली लौट रहे थे। तभी एयरफोर्स का एमआई17-वी5 हेलिकॉप्टर नीलगिरी के जंगली इलाके में क्रैश कर गया। बताया जा रहा है कि तीन लोगों को मलबे से निकाला जा चुका है।

केरल हेलीकॉप्टर क्रैश:

क्रैश की वजहों को लेकर तमाम तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। कहा जा रहा है कि शायद मौसम की खराबी और बादल की वजह से हेलिकॉप्टर के पायलट सही अनुमान लगाने से चूक गए और यह हादसा हो गया। अब कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी की जाएगी, तभी पता चल पाएगा कि हादसा किन वजहों से हुआ।

शेयर करें
facebook twitter