हरियाणा की बेटियों ने परचम लहराकर प्रदेश का मान बढ़ाया :  खट्टर

चंडीगढ़ (मोहन अरविंद): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने प्रदेश की बेटियों की उपलब्धियों पर गर्व प्रकट करते हुए कहा है कि उन्होंने न केवल हरियाणा का, बल्कि देश का विश्व में नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि हमारी बेटियां न केवल खेल, शिक्षा, प्रबंधन, कृषि, उद्योग आदि क्षेत्रों में अग्रणी हैं, बल्कि अब फिल्मों और सौन्दर्य प्रतियोगिताओं में भी परचम लहरा रही हैं। मुख्यमंत्री आज अपने निवास पर फेमिना मिस ग्रेण्ड इण्डिया मनिका श्योकंद से भेंट के दौरान बातचीत कर रहे थे। कैमिकल इंजीनियर मनिका श्योकंद जिला जींद की रहने वाली हैं। मुख्यमंत्री ने उन्हें व उनके परिजनों को बधाई देते हुए कहा कि उनकी उपलब्धि पर आज पूरे प्रदेश को गर्व है। उन्होंने कामना की कि वे इसी प्रकार आगे बढ़ते हुए विश्व सुन्दरी बनें। उन्होंने मनिका श्योकंद को गीता और शॉल भेंट किये और उनसे गीता का अध्ययन करने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि गीता में उन्हें जीवन की सब समस्याओं का समाधान मिलेगा। 

प्रदेश की बेटियों की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मनिका श्योकंद पिछले 6 साल में प्रदेश की तीसरी बेटी हैं, जिन्होंने सौन्दर्य प्रतियोगिताओं में प्रदेश का नाम रोशन किया है। इससे पहले, मानुषी छिल्लर और मीनाक्षी ने भी इसी तरह की सौन्दर्य प्रतियोगिता में बड़ी उपलब्धियां प्राप्त की हैं। मानुषी छिल्लर तो वर्ष 2017 में विश्व सुन्दरी बनी, जबकि मीनाक्षी वर्ष 2018 में रनरअप रही।उन्होंने कहा कि खेलों में तो प्रदेश की बेटियों ने पदकों की झड़ी लगाकर अपने दमखम का लोहा मनवाया है। इस समय टोकियो ओलम्पिक की तैयारी के लिए कैम्प चल रहा है। उसमें चयनित देश की 37 महिला बॉक्सर में से 22 हरियाणा की हैं। मुख्यमंत्री से बातचीत करते हुए मनिका श्योकंद ने कहा कि प्रदेश में ‘बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ’ अभियान शुरू होने के बाद माता-पिता ने बेटियों को आगे बढ़ाने पर विशेष ध्यान दिया है।