अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर 'आर्ट ऑफ लिविंग' बनाएंगे गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड 

बेंगलुरु (उत्तम हिन्दू न्यूज): आर्ट ऑफ लिविंग अपने सहयोगी संस्थानों के साथ मिलकर 21 जून 2019 को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाएगा। योग दिवस पर भारत में 22 स्थानों पर प्रतिभागियों की अधिकतम संख्या के साथ वीरभद्रासन को 3 मिनट के लिए किया जाएगा। आर्ट ऑफ लिविंग के प्रशिक्षित श्री श्री योग शिक्षक इस आसन को करने में प्रतिभागियों का मार्गदर्शन करेंगे और विभिन्न स्थानों पर पहली बार इस आयोजन के द्वारा रिकॉर्ड बनाएंगे। ये आयोजन बारगढ़, बेंगलुरु, भुवनेश्वर, चंडीगढ़, चेन्नई, दमंजोड़ी, गुंटूर, हैदराबाद, कोलकाता, कोझेंचेरी, मुंबई, नवी मुंबई, नई दिल्ली, पुणे, फालटन, रायपुर, रेवाड़ी, तिरुवनंपुरम, उदगीर, विजयवाड़ा और विशाखापट्टनम में किए जाएंगे।

वैश्विक मानवतावादी और आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने 6 जून को बर्न, स्विट्ज़रलैण्ड में भारतीय दूतावास में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस उत्सव का एक संबोधन के द्वारा आरंभ किया। वहां वरिष्ठ राजनयिक अधिकारियों और कर्मचारियों ने गुरुदेव के साथ ज्ञान और ध्यान के एक प्रभावशाली सत्र में भाग लिया।

इसे जारी रखते हुए आर्ट ऑफ लिविंग 21 जून को औपचारिक नवाचार के साथ देशभर में हज़ारों स्थानों पर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2019 मनाएगा। जालंधर में योग दिवस शिवानी पार्क, मॉडल टाउन में सुबह 5:45 से 7:15 बजे तक मनाया जाएगा। इसके अलावा, जालंधर छावनी, टैगोर नगर और अन्य स्थानों पर भी योग होगा।