कुरुक्षेत्र को नए बाई पास परियोजना की सौगात जल्द देगी सरकार : सुधा

मुख्यमंत्री ने नए बाई पास के लिए केन्द्र को लिखा पत्र
थानेसर में करोड़ों रुपए से बनेगा लोक निर्माण विभाग का नया विश्राम गृह व सर्किट हाउस

कुरुक्षेत्र/सरबजोत दुग्गल : विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि कुरुक्षेत्र के लोगों को केन्द्र और राज्य सरकार नए बाई पास की सौगात जल्द देगी। इस बड़ी परियोजना को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने केन्द्र सरकार को डीओ लैटर भेजा है। इस करोड़ों रुपए की परियोजना को अमलीजामा पहनाने के लिए जल्द ही सांसद नायब सिंह सैनी के साथ केन्द्रीय लोक निर्माण मंत्री नितिन गडकरी से भी मुलाकात करेंगे। इतना ही नहीं, थानेसर शहर में पुराने सर्किट हाउस के साथ जमीन पर आधुनिक सुविधाओं से लैस सर्किट हाउस का नया भवन बना कर इसमें 20 कमरे बनाए जाएंगे। इस परियोजना पर सरकार ने मोहर लगा दी है। इसके साथ ही पिपली में पुराने लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह के साथ खाली पड़ी जमीन पर नया विश्राम गृह बनाया जाएगा। इस नए विश्राम गृह में 20 कमरे और एक कान्फ्रेंस हाल बनाने का प्रस्ताव सरकार के पास भेज दिया गया है।
विधायक सुभाष सुधा बुधवार को सैक्टर- 7 आवास कार्यालय पर अधिकारियों की बैठक के बाद बातचीत कर रहे थे। उन्होंने बताया कि भाजपा सरकार ने कुरुक्षेत्र को 225 करोड़ रुपए की ऐलिवेटिड रेल ट्रैक परियोजना दी है। यह रेल ट्रैक करीब 6.5 किलोमीटर लम्बा होगा। इस परियोजना का निर्माण कार्य 25 दिसम्बर को शुरु होना था, लेकिन मुख्यमंत्री की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ वीसी होने के कारण कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया। उन्होंने बताया कि सरकार ने ब्रहमसरोवर, ज्योतिसर में चलते पानी की योजना, 100 बैड के नए सरकारी अस्पताल, पलवल में राजकीय महिला कालेज का निर्माण पूरा करने, नर्सिंग कालेज का निर्माण कार्य तेजी से पूरा करने, आयुष विश्वविद्यालय, किरमच और छोटे बाजार में स्कूलों के नए भवन, बारना और बारवा में 50 सालों के बाद नई सडक़ों निर्माण, रेलवे रोड़, केडीबी रोड, झांसा रोड़ सहित अनेकों परियोजनाओं को पूरा किया है। देश के पहले आयुष विश्वविद्यालय के निर्माण कार्य को तेजी से शुरु करने के लिए सरकार द्वारा 3 आईएएस अधिकारियों की कमेटी भी गठित की है। बगथला से सुरमी तक की सडक़ का निर्माण कार्य भी शुरु कर दिया गया है। इस साल में लोगों को सैक्टर-7 से पाईप से रसोई गैस देना शुरु कर दिया जाएगा। इस शहर को स्वच्छता के क्षेत्र में आगे लाने के लिए टेंडर जारी कर दिए है और सैक्टरों में करीब 125 कर्मचारियों को लगाया जाएगा। इसके साथ ही पिपली से थर्ड गेट तक सडक़ का निर्माण कार्य भी तेजी से पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि रेलवे रोड़ की तरफ आरओबी से उतरने वाली लैग का निर्माण कार्य भी 15 जनवरी तक पूरा कर लिया जाएगा। इस योजना पर करीब 7 करोड़ रुपए की राशि खर्च की गई है।
उन्होंने कहा कि ज्योतिनगर में सूरजकुंड तीर्थ को विकसित करने के लिए सरकार की तरफ से 2 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जा चुकी है और इस परियोजना को पूरा करने के लिए दो करोड़ रुपए ओर राशि जारी की जाएगी। कुरुक्षेत्र एक विश्व प्रसिद्घ स्थल है, इस स्थल पर दूर-दूर से पर्यटक व श्रद्घालु आते है। यहां पर सरकार की तरफ से जो विश्राम गृह और सर्किट हाउस बनाया है, वहां पर ठहरने की व्यवस्था पर्याप्त नहीं है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के समक्ष कुछ समय पहले सर्किट हाउस के विस्तारीकरण का प्रस्ताव रखा गया था। मुख्यमंत्री ने इस प्रस्ताव पर अपनी मोहर लगा दी थी। अब सरकार ने सर्किट हाउस के नए भवन को बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। इस प्रस्ताव के अनुसार सर्किट हाउस में 20 नए कमरे बनाए जाएंगे, जो कि आधुनिक सुविधाओं से सम्पन्न होंगे। इसके साथ ही पिपली में लोक निर्माण विभाग के नए भवन का भी प्रस्ताव तैयार किया है। इस प्रस्ताव के अनुसार नए विश्राम गृह में 20 कमरे और कान्फ्रेंस हाल बनाया जाएगा। इन दोनों परियोजनाओं पर करोड़ों की रुपए का बजट खर्च किया जाएगा। इस मौके पर अधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद थे।