सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट शिवधाम का छोटी काशी में शिलान्यास, देशवासियों के लिए अनूठा स्थान होगा शिवधाम : जयराम

मंडी (पुंछी): सीएम जयराम ठाकुर के ड्रीम प्रोजेक्ट शिवधाम का शनिवार को मंडी में शिलान्यास किया गया। मंडी में शिवधाम का निर्माण 150 करोड़ रुपए से अधिक की लागत से किया जाएगा, जो मंडी में आने वाले पर्यटकों के लिए एक मुख्य आकर्षण होगा। यह शिवधाम मंडी के साथ-साथ देश के लोगों के लिए भी एक अनूठा स्थान होगा। यह बात मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने शनिवार को मंडी के कांगणीधार में बनने वाले शिवधाम की आधारशिला रखने के बाद कही। उन्होंने कहा कि इस परियोजना के प्रथम चरण के कार्य को 40 करोड़ रुपये की लागत से पूरा किया जाएगा। उन्होंने लगभग 100 करोड़ रुपए की लागत से यू-ब्लॉक के पास सार्वजनिक निजी सहभागिता से बनने वाली बहुमंजिला पार्किंग की आधारशिला भी रखी। जय राम ठाकुर ने कहा कि इसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जाता है जिन्होंने शिवधाम परियोजना और 604 अन्य परियोजनाओं को मंजूरी प्रदान करने में राज्य का सहयोग किया जो वन विभाग की मंजूरी के बिना शुरू नहीं हो पा रहे थे। उन्होंने कहा कि बहुमंजिला पार्किंग से शहर के लोगों व पर्यटकों को सुविधा होगी।

उन्होंने कहा कि राज्य को वन विभाग की मंजूरी मिलते ही मंडी शहर में 27 करोड़ रुपये की लागत से अनाज मंडी का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वित्त आयोग ने भी मंडी केे ग्रीन फिल्ड हवाई अड्डे के लिए एक हजार करोड़ रुपये और कांगड़ा हवाई अड्डे के विस्तार के लिए 400 करोड़ रुपये की सिफारिश की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांगणीधार में शिवधाम को 9.5 हेक्टेयर क्षेत्र में बनाया जाएगा और यह छोटी काशी मंडी आने वाले पर्यटकों के लिए मुख्य आकर्षण होगा। उन्होंने कहा कि शिवधाम में 12 ज्योतिर्लिंग के प्रतिरूप, भगवान शिव और गणेश की मूर्ति की स्थापना की जाएगी और म्यूजिय़म, फूड कोर्ट, हर्बल गार्डन, नक्षत्र वाटिका, एम्फी थियेटर, ओरिएंटेशन केंद्र और कार पार्किंग का निर्माण किया जाएगा। 


कुछ इस तरह का होगा शिवधाम
9 हेक्टेयर से भी ज्यादा की जमीन पर बनेगा शिवधाम का सारा कांप्लेक्स

शिवधाम के निर्माण की प्रक्रिया शुरू की जाएगी और इसपर अभी अनुमानित 150 करोड़ की धनराशि को खर्च किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिलते ही शनिवार को सीएम जयराम ठाकुर ने इसका विधिवत रूप से शिलान्यास कर दिया। इसका दो मिनट का एक एनिमेटिड वीडियो भी टूरिज्म विभाग ने शेयर किया है जिसमें यह बताने का प्रयास किया गया है कि शिवधाम कैसा होगा। टूरिज्म विभाग के इस एनिमेटिड वीडियो के अुनसार इसका नाम शिवधाम स्पिरिच्युल कॉम्पलेक्स होगा जोकि साढ़े 9 हेक्टेयर क्षेत्र में बनेगा। यहां सबसे पहले पार्किंग की सुविधा होगा जहां सैंकड़ों गाडिय़ों को खड़ा किया जा सकेगा। शिवधाम में प्रवेश के लिए कैलाश द्वार होगा। वहीं शिवधाम में आपको श्री गणेश मंडल के दर्शन होंगे जिसमें भगवान गणेश की भव्य प्रतिमा स्थापित होगी। गंगा कुंड होगा, शिव वंदना के नाम से ओरिएंटेशन सेंटर होगा। रूद्रा मंडल और डमरू मंडल होगा जहां भगवान शिव के डमरू के दर्शन होंगे। डमरू मंडल के पास खाने पीने की वस्तुएं भी मिलेंगी। मानसरोवर कुंड होगा, मोक्षपथ होगा, विल्वपत्रा कुंड होगा, शिवस्मृति म्यूजियम होगा और एक बड़ा शिवलिंग भी होगा। वहीं शिवधाम में भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों के दर्शन भी करवाए जाएंगे और भगवान शिव के साथ माता पार्वती, कार्तिकेय और गणेश भगवान की प्रतिमाएं भी होंगी।