विपक्षी कुर्सी की डील में कार्यकर्ता को भूल गए : मोदी

मिर्जापुर (उत्तम हिन्दू न्यूज): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां गुरुवार को सपा, बसपा और कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि सत्ता की कुर्सी के लिए डील के चक्कर में अपने कार्यकर्ताओं को भूल गए।

नरेंद्र मोदी यहां अपनी स्वस्थ्य मंत्री अनुप्रिया पटेल के समर्थन में जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा, "बुआ, बबुआ और कांग्रेस के नामदार, उप्र की जनता को सिर्फ जातियों में बांटते हैं। उन्हें लगता है कि वोटर उनकी जागीर हैं, वो सोचते हैं कि वो जब चाहें अपनी जागीर दूसरे को दे सकते हैं। ये अपनी कुर्सी की डील में अपने कार्यकर्ताओं तक को भूल जाते हैं।" 

उन्होंने कहा कि सपा-बसपा और कांग्रेस के नेताओं ने अपने कार्यकर्ताओं को रिमोट कंट्रोल से चलने वाला खिलौना समझ लिया है। चाहे कार्यकर्ता अपमानित महसूस करे, चाहे उसका हौसला टूट जाए, इन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। एक लीडर होता है, जो समाज की खुशी के लिए समर्पित होता है, दूसरा होता है डीलर जो सत्ता की कुर्सी के लिए डील करते हैं। सिर्फ अपने स्वार्थ की राजनीति करने वाले सपा-बसपा-कांग्रेस के डीलर उत्तर प्रदेश की समझदार जनता को गलत समझने की भूल कर रहे हैं।

मोदी ने सपा-बसपा पर हमला बोलते हुए कहा, "ये महामिलावटी वही लोग हैं, जिन्होंने महापुरुषों के नाम पर स्मारक बनाने का ढोंग किया और उसमें भी घोटाला कर गए। ये वही लोग हैं, जिन्होंने उत्तर प्रदेश को बिजली जैसी बुनियादी सुविधा के लिए भी तरसा दिया था। जब इनकी महामिलावटी सरकार थी तो इन्होंने उत्तर प्रदेश के उद्योगों को गुंडाराज की भेंट चढ़ा दिया।"

प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश और मिर्जापुर की जनता यह जानती है कि कौन आतंकी को घर में घुसकर मार सकता है। कौन आतंकी मसूद अजहर पर बैन लगवाकर उस पर शिकंजा कस सकता है, कौन है जो नक्सलवाद का सफाया कर सकता है।