जबरन हड़ताल के लिए किया जा रहा मजबूर

अम्बाला (राजेन्द्र भारद्वाज) : अंबाला में आज प्रदेश भर से कई एमपीएसडब्ल्यू वर्कर स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से मिलने आये और उन्हें एक ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि उनका हड़ताली कर्मियों से कोई लेना देना नहीं। वह ड्यूटी पर वापिस लौटकर काम करना चाहते हैं, लेकिन उन्हें जबरन हड़ताल के लिए मजबूर किया जा रहा है।  एमपीएसडब्ल्यू की स्टेट प्रधान सुशीला ढांडा और एसोसिएशन की राज्य महासचिव कृष्णा राणा अपने साथियों के एक शिष्ट मंडल के साथ अनिल विज से मिले और उन्हें कहा की वह हड़ताली कर्मचारियों का बिलकुल भी समर्थन नहीं कर रहे और अपना काम सचारु रूप से कर रहे हैं। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को अपनी मांगों का एक मांग पत्र भी दिया और उसे जल्द पूरा करने की गुजारिश की।

मपीएसडब्ल्यू कर्मचारियों से मिलने के बाद विज ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कुछ प्रतिनिधि उनसे मिलने आये थे जिन्होंने उन्हें बताया कि उनसे जबरन हड़ताल करवाई जा रहे है जबकि वह हड़ताल करना नहीं चाहते। विज ने हड़ताली कर्मियों पर सख्ती दिखाते हुए कहा कि जो हड़ताली कर्मी अभी भी ड्यूटी पर वापिस नहीं आ रहे उनके लिए सभी जिले के एसपी और डीसी को लिख दिया गया है कि उन पर एस्मा के तहत कार्यवाई करते हुए उन पर एफआईआर दर्ज कर दी जाए। 

Related Stories: