Farmers Protest: सिंघु बॉर्डर पर एक और किसान ने जहर खाकर दी जान

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज)-कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसान आंदोलन के बीच एक और किसान ने जान गंवा ली। सिंघु बार्डर पर फतेहगढ़ साहिब के 40 वर्षीय किसान अमरिंदर सिंह ने जहर निगल लिया। जहर निगलने के बाद उसकी तबीयत बिगड़ गई। उसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां उसने दम तोड़ दिया। इससे पहले टिकरी बॉर्डर पर 3 जनवरी को एक 58 साल के किसान की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी।

 


किसान तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ 26 नवंबर से ही दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं। कल भी किसान और सरकार के बीच वार्ता हुई थी लेकिन वह बेनतीजा साबित हुई। अब दोनों पक्षों में 15 जनवरी को फिर बैठक होनी है और शायद उसमें कोई समाधान निकल आए। पिछले रविवार को पंजाब के संगरूर जिले के लिधरा गांव के रहने वाले शमशेर सिंह (करीब 45 वर्ष), पंजाब के बठिंडा जिले के चाउके गांव के रहने वाले जशनदीप सिंह (18) और हरियाणा के जींद के रहने वाले जगबीर सिंह (60) ने भी यहां अपनी जान गंवा दी थी।