अलग-अलग स्थानों पर किसानों ने मोदी सरकार के खिलाफ किया रोष प्रदर्शन

जंडियाला गुरु / उत्तम हिंदू न्यूज
संयुक्त किसान मोर्चे द्वारा केंद्र सरकार के खिलाफ लड़ा जा रहा किसानी आंदोलन के संबंध में सब्जी उत्पादक किसान जत्थेबंदी द्वारा गाँव चौहान में 
 मीटिंग का आयोजन किया गया। संयुक्त किसान मोर्च को कामरेड लखबीर सिंह ने संबोधित करते किसानों को अपील की वह गांव स्तर पर किसान कमेटियों का गठन करें और किसान आंदोलन में भाग लें । उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा किसान आंदोलन के खिलाफ जो झूठा प्रचार गोदी मीडिया द्वारा किया जा रहा है उससे सावधान रहने की जरूरत है। गांव के किसानों की 13 मेंबरी कमेटी का चुनाव किया गया । इसमें मनजीत सिंह चंदी ,सुरिंदर सिंह झंड ,गुरमेज सिंह ,हरमन सिंह ,बचित्तर सिंह गोल्ड ,कुलवंत सिंह ,दलजीत सिंह ,आरूढ़ सिंह ,गुरभेज सिंह ,सरबजीत सिंह ,आरूढ़ सिंह अरविंदर सिंह और कुलजीत सिंह चुने गए ।इस मीटिंग को अन्य के इलावा भूपिंदर सिंह तीर्थपुरा ,तरसेम सिंह नंगल ,राजबीर सिंह फतेहपुर राजपूतां ने संबोधित किया । इस मौके किमानों ने मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

इस तरह  किसान मज़दूर संघर्ष कमेटी पंजाब की अध्यक्षता में जंडियाला गुरु में चल रहा 'रेल रोको आंदोलनÓ गुरबचन सिंह चब्बा ,जर्मनजीत सिंह बंडाला और रणजीत सिंह कलेरबाला की अगुवाई में आज 153वें दिन में दाखिल हो गया। धरने को संबोधित करते हुए कृपाल सिंह कलेर मांगट और मुख्तार सिंह भंगवां ने कहा कि दिल्ली में चल रहे आंदोलन केंद्र सरकार के 26 जनवरी को किये गए जबर जुल्म के बाद लगातार मोर्चे में बढ़ रही किसानों मज़दूरों और आम लोगों की बड़ी गिनती को देखते हुए घबराहट में आई केंद्र सरकार और उसके मंत्रियों द्वारा किसानों के खिलाफ दिए जा रहे अपमानजनक बयान घबराहट की निशानी है। किसान नेता चब्बा ने कहा कि कृषि मंत्री तोमर द्वारा हक सच की लड़ाई लड़ रहे आंदोलनकारी किसानों और मज़दूरो को बड़ी भीड़ बताना शर्मनाक बात है  देश के अन्नदाता का अपमान है । इस मौके पर बलजीत सिंह भंगवा ,गुलज़ार सिंह कोटला गुज्ज्रां, कुलदीप सिंह दादूपूर,जगतार सिंह वीरम ,हरिंदर सिंह वडाला ,सुखविंदर सिंह ठठा ,और गुरदयाल सिंह पंधेर ने संबोधित किया।