मोगा में किसानों ने किया अश्विनी शर्मा सहित भाजपा नेताओं का घेराव

आईजी फरीदकोट रेंज कौस्तुभ शर्मा ने खुद संभाली कमान 
धक्का-मुक्की के बाद लाठीचार्ज, कांग्रेस करवा रही हमले : भाजपा नेता 
मोगा (दविंदर पाल सिंह):
पंजाब ने खेती कानूनों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ आर-पार की लड़ाई शुरु कर दी है। 

मोगा में भाजपा नेताओं को एक बार फिर कृषि सुधार कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के विरोध का सामना करना पड़ा। पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा पार्टी के जिला अध्यक्ष विनय शर्मा के घर आए हुए थे। इसकी भनक जैसे ही किसानों को लगी वे वहां पहुंच गए और विनय शर्मा की कोठी को घेर लिया।

भाजपा जिला प्रधान विनय शर्मा के घर आगे करीब सवा 2 महीने से किसानों का मोर्चा चल रहा है। विनय शर्मा का हौंसला बढ़ाने पहुंचे भाजपा नेताओं भाजपा पंजाब प्रधान अश्विनी शर्मा, पूर्व मंत्री मनोरंजन कालिया, तीक्ष्ण सूद और श्वेत मलिक का बैरीकेट्स तोड़कर बीकेयू एकता उग्राहां नेता बलौर सिंह घाली, गुरभिंदर सिंह कोकरी, गुरमीत सिंह किशनपुरा आदि बड़ी संख्या में किसानों ने घेराव करके नारेबाजी की और काले झंडे दिखाए। 

इस मौके पर किसानों ने भाजपा नेताओं को लानते भी डालीं। भाजपा नेता किसानों के धरने के दौरान जिस रास्ते से विनय शर्मा के घर पहुंचे उसी से एक घंटे बाद बाहर निकले। इस दौरान पुलिस के हाथ-पांव इस कदर फूले हुए थे कि खुद एसएसपी हरमनवीर सिंह गिल विनय शर्मा के निवास पर पहुंचे थे। भाजपा नेताओं के विनय शर्मा के घर से बाहर जाते समय एक वरिष्ठ नेता के साथ धक्कामुक्की होने पर कुछ देर के लिए हंगामे का माहौल बन गया, लेकिन बाद में अश्विनी शर्मा अपनी गाड़ी से उतरे और भाजपा नेता को अपने साथ पैदल ही देव होटल तक ले गए।

वहीं भाजपा वर्करों की ओरसे मोदी जिंदाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए तो हालात तनावपूर्ण हो गया। पुलिस ने वाहनों का शहर के अंदर दाखिला रोक दिया। हालात को काबू करने के लिए मोगा को पुलिस छावनी में तबदील कर दिया गया और आईजी फरीदकोट रेंज कौस्तुभ शर्मा ने खुद कमान संभाली। पुलिस इन नेताओं को सुरक्षा घेरे में लेकर वहां से निकाल कर एक होटल में ले गई जहां भाजपा वर्करों की मीटिंग और प्रैस कांफ्रैंस रखी गई थी। जिला पुलिस प्रमुख हरमनबीर सिंह गिल भी बारिश में मौके पर मौजूद रहे।

इस दौरान सीपीआई नेता कुलदीप भोला और सुखजिंदर महेसरी के नेतृत्व में बारिश में जनतक जत्थेबंदियों के नेता बैरीकेट्स तोड़कर होटल के पास पहुंच गए। इस मौके धक्का-मुक्की हुई और पुलिस ने हलका लाठीचार्ज करना पड़ा।
यहां प्रैस कांफ्रैंस में भाजपा प्रदेश प्रधान अश्विनी शर्मा ने कथित आरोप लगाया कि भाजपा नेताओं और वर्करों पर हमले कांग्रेस के इशारे पर हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसीं घटनाएं बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग किसान नहीं हो सकते इन पीछे बड़ी साजिश काम कर रही है। वह मीडिया द्वारा किए तीखे सवालों का जवाब टालते रहे और प्रैस कांफ्रैंस बीच में छोडऩे के लिए मजबूर हो गए। इस मौके बड़ी गिनती में भाजपा नेता और वर्कर मौजूद थे।