किसानों ने कृषि मंत्री जेपी दलाल का पुतला फूंका

उचाना/नरेन्द्र जेठी: भिवानी में कृषि मंत्री जेपी दलाल द्वारा किसानों पर किसान आंदोलन को लेकर की गई टिप्पणी की कड़े शब्दों में किसान नेताओं, किसानों ने निंदा की। खटकड़ किसानों के धरने पर कृषि मंत्री का किसानों ने पुतला फूंका कर रोष प्रकट किया। कृषि मंत्री को मंत्रिमंडल से बर्खास्त किए जाने की मांग की। भिवानी में किसानों, किसान आंदोलन को लेकर की गई टिप्पणी पर हालांकि जेपी दलाल ने शनिवार शाम को ही माफी मांगने के साथ-साथ अपने बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किए जाने की बात भी कही। 
आजाद पालवां, सतबीर पहलवान ने कहा कि 200 से अधिक किसान अब तक मौत का ग्रास बन चुके है लेकिन जेपी दलाल ने कृषि मंत्री होते हुए जो टिप्पणी की है उससे किसान का अपमान करने का काम किया है। प्रदेश की कैबिनेट से तुरंत प्रभाव से जेपी दलाल को बर्खास्त किया जाए। जेपी दलाल की किसानों को लेकर जो सोच है वो उनके बयान से जाहिर हो चुकी है। जेपी दलाल के बयान से किसान आंदोलन को लेकर प्रदेश सरकार की मंशा के बारे में भी पता चल गया है। इसी के साथ पुलवामा में शहीद हुए जवानों के साथ-साथ किसान आंदोलन में मौत का ग्रास बन किसानों की श्रद्धाजंलि देने के साथ-साथ दो मिनट का मौन भी रखा। शाम को गांवों में मेन चौपाल से लेकर मंदिर के अलावा अन्य गांव के प्रमुख स्थान तक कैंडल मार्च निकाल कर श्रद्धाजंलि दी गई।  इस मौके पर सिक्किम सफा खेड़ी, पूर्व सरपंच कृष्ण, राकेश खटकड़, अनूप खटकड़, रामनिवास करसिंधु, राजेंद्र बरसोला, जयबीर जाखड़ मौजूद रहे।