किसानों को मिल रहा मजदूर,सामाजिक संगठनों का साथ

सोनीपत (उत्तम हिन्दू न्यूज): हरियाणा में सोनीपत के कुंडली में कृषि कानूनों के विरोध में धरने पर बैठे किसानों को अब मजदूर और सामाजिक संगठनों का भी साथ मिलना शुरू हो गया है। उनका साथ देने के लिए दिल्ली और आसपास इलाकों से भी विभिन्न सामाजिक व मजदूर संगठन के नेता व कार्यकर्ता पहुंच रहे हैं। मंगलवार को धरना स्थल पर दिल्ली के विभिन्न विश्वविद्यालयों के छात्र संगठनों के अलावा भगत सिंह छात्र एकता मंच, क्रांतिकारी युवा संगठन, कुछ आर्ट ग्रुप के सदस्यों ने भी पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया।

किसानों का पहुंचना जारी है। ट्रैक्टर-ट्रालियों में आ रहे किसानों के साथ भारी मात्रा में रसद भी है, जबकि आसपास के गांव के लोग भी रसद, सब्जियां व दूध आदि पहुंचाने में उनकी मदद कर रहे हैं। किसानों के प्रदर्शन के कारण बार्डर पर आवागमन पूरी तरह से बंद है। यहां से केवल पैदल ही राहगीर गुजर रहे हैं। बार्डर के दोनों ओर करीब दो से तीन किलाेमीटर का पैदल सफर करने के बाद ही यात्रियों को आगे जाने के लिए आटो या अन्य वाहन मिलते हैं।

कुंडली बार्डर पर लगातार बढ़ रहे जमावड़े के बीच एक सभा पूरा दिन चलती रहती है। वहीं, सिंघू बार्डर के दूसरी ओर भी किसानों का धरना जारी है। किसानों के धरने पर पूरा दिन किसान, मजदूर नेता किसानों में जोश भरते रहते हैं। वहीं, दिल्ली के कई शिक्षण संस्थाओं के विद्यार्थी नुक्कड़ नाटकों, गानों व तख्तियों के जरिये विरोध प्रदर्शन कर किसानों की मदद कर रहे हैं। विद्यार्थियों ने किसानों के जमावड़े पर युवा किसानों के साथ तख्तियां तैयार करने का काम शुरू कर दिया है, जिन पर अलग-अलग स्लोगन लिखकर मीडिया के सामने प्रदर्शन किया जा रहा है।