रैप बनाने, शेयर करने को फेसबुक ने लॉन्च किया टिकटॉक जैसा ऐप

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): चीनी शॉर्ट-वीडियो मेकिंग प्लेटफॉर्म-टिकटॉक को कड़ी टक्कर देने के लिए फेसबुक ने इस बार एक नए ऐप को लॉन्च कर दिया है, जिसकी मदद से रैप्स को क्रिएट और शेयर किया जा सकेगा। बीएआरएस (बार्स) के नाम से यह ऐप अमेरिका में एप्पल ऐप स्टोर पर उपलब्ध है। इससे यूजर्स रैप को आसानी से बनाकर शेयर कर सकेंगे। बार्स की मदद से तमाम उपकरणों और प्रोडक्शन पर भारी निवेश किए बिना ही रैपर्स अपने कंटेंट पर फोकस कर इसके साथ एक्सपेरिमेंट कर सकेंगे।

फेसबुक ने शुक्रवार को जारी एक बयान में कहा, ऑडियो प्रोडक्शन टूल्स काफी जटिल और महंगे होते हैं और इन्हें इस्तेमाल करना भी आसान नहीं होता है। बार्स के साथ आप पेशेवर रूप से तैयार हमारे किसी बीट या धुन का चयन कर सकेंगे, लिरिक्स लिख सकेंगे और खुद-ब-खुद इसे रिकॉर्ड कर सकेंगे।

कंपनी ने आगे कहा, किसी गीत के बोल को लिखने के दौरान इसका प्रवाह सही से बरकरार रहे, इसके लिए बार्स द्वारा आपको स्वत: राइम्स सुझाए जाएंगे। आप चाहे तो चैलेंज मोड में जाकर शब्दों की पंक्तियों में खुद से भी किसी शब्द का सुझाव दे सकते हें। बार्स में कई तरह के ऑडियो होंगे, जिनमें से किसी एक को चुना जा सकता है। इसमें अपनी रचना को एक अगले स्तर पर ले जाने के लिए विजुअल फिल्टर्स का भी सहारा लिया जा सकता है।

फेसबुक के आतंरिक आर एंड डी समूह में न्यू प्रोडक्ट एक्सपेरिमेंटेशन (एनपीई) टीम का हाथ इस नए एक्सपेरिमेंटल ऐप के पीछे है।

संगीत के क्षेत्र में बार्स एनपीई टीम का दूसरा लॉन्च है। इससे पहले इनके द्वारा पिछले साल म्यूजिक वीडियो ऐप कोलैब को लॉन्च किया जा चुका है।