आम आदमी पार्टी का हर एक कार्यकत्र्ता समृद्ध पंजाब बनाने के लिए दृढ़ संकल्पित : मान

-चुनाव के दौरान कांग्रेस की गुंडागर्दी का सामना करने वाले आप कार्यकत्र्ताओं, नेताओं और उम्मीदवारों को सलाम
चंडीगढ़ (विज):
आम आदमी पार्टी ने अपने पार्टी के उन नेताओं, कार्यकत्र्ताओं और उम्मीदवारों की सराहना की, जिन्होंने अपने हौंसले और साहस की बदौलत चुनाव के दौरान कांग्रेस के गुंडों का डटकर सामना किया और उनके खिलाफ आवाज उठाई। आप के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद भगवंत मान ने कहा कि हम कांग्रेस के गुंडों द्वारा की गई हिंसा और हमले का डटकर सामना करने वाले अपने बहादुर कार्यकत्र्ताओं को सलाम करते हैं।

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का हर एक कार्यकत्र्ता समृद्ध पंजाब बनाने के लिए दृढ़ संकल्पित है। 

उन्होंने कहा कि 14 फरवरी को निकाय चुनाव के दिन कांग्रेस ने सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग और गुंडागर्दी कर सैंकड़ों बूथों पर कब्जा कर लिया था। पट्टी, समाना, राजपुरा, भिखीविंड, जलालाबाद, धूरी सहित राज्य के कई जगहों पर बूथ कैप्चरिंग और हिंसक घटनाएं हुईं। पुलिस के सहयोग से कांग्रेस के गुंडों ने आप कार्यकत्र्ताओं बुरी तरह से पिटाई की। पट्टी में आम आदमी पार्टी के एक कार्यकत्र्ता को कांग्रेस के गुंडों ने गोली मार दी। इसके बावजूद आप के कार्यकत्र्ता कांग्रेस प्रायोजित गुंडागर्दी को उजागर करते रहे। 


उन्होंने कहा कि अकाली दल और भाजपा को भी कांग्रेस की गुंडागर्दी का सामना करना पड़ा। बूथों पर कब्जा करने गए कांग्रेस के गुंडों के डर से अकाली दल के कार्यकत्र्ता भाग गए और भाजपा के कार्यकत्र्ता तो बूथ पर बैठे ही नहीं लेकिन आम आदमी पार्टी के बहादुर कार्यकत्र्ताओं ने कांग्रेसी गुंडों का डटकर सामना किया और उनकी गुंडागर्दी को उजागर किया। आप के कार्यकत्र्ताओं ने लोगों के लोकतांत्रिक अधिकार कांग्रेसियों से बचाने के लिए संघर्ष किया और अपनी जान पर खेलकर चुनाव को प्रभावित होने से बचाने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि पहले अकाली दल के गुंडे चुनाव लूटते थे। अकालियों के रास्ते पर चलते हुए अब कांग्रेस ने चुनाव लूटा। पंजाब के लोग इन दोनों भ्रष्ट पार्टियों से तंग आ चुके हैं। अब लोग बदलाव चाहते हैं। आम आदमी पार्टी के कार्यकत्र्ताओं ने अकालियों-कांग्रेसियों की राजनीतिक गंदगी को साफ कर पंजाब को स्वच्छ और समृद्ध का संकल्प लिया है। उन्होंने कहा कि जब कांग्रेसियों की गुंडई सामने आई तो सबसे पहले आप कार्यकत्र्ताओं ने ही उनका विरोध किया।