कांग्रेस पार्टी के लिए बोझ बन गया है वंशवाद : जयराम ठाकुर

शिमला (पी.सी.लोहमी) - भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि 'वंशवाद की मौजूदा पीढ़ीÓ कांग्रेस पार्टी के लिए बोझ बन गई है। देश की जनता वंशवाद से तंग आ चुकी है और अब वे इसे स्वीकार नहीं करेंगे। जयराम ठाकुर ने रविवार को एक बयान में कहा कि कांग्रेस के वंशवाद को 2014 के चुनावों में देश के मतदाताओं ने 44 सीटों पर सीमेटते हुए यह संदेश दिया था कि जनता वंशवाद के खिलाफ है। फिर पारंपरिक कांग्रेसियों के लिए खुद को किसी वंशवाद के अधीन करने का अपमान सहने का क्या प्रोत्साहन है? यह जनता के समक्ष एक बड़ा प्रश्न है।

वंशवादी दलों में लोगों को राजनीतिक दासता स्वीकार करनी होती है। जयराम ठाकुर ने कहा कि 2019 का चुनाव कांग्रेस पार्टी के लिए वंशवाद एक बोझ का गवाह बनेगा। कांग्रेस बरसों पहले जमीन से इतना कट चुकी है कि उसे देश के लोगों की भावनाएं, देश के लोगों की जरूरतें समझ ही नहीं आती। एक परिवार की गुलामी, उस परिवार का हुक्म मानना ही कांग्रेस की सच्चाई है।  जयराम ठाकुर ने कहा कि भाजपा ने देश को दो प्रधानमंत्री-अटल बिहारी वाजपेयी और नरेन्द्र मोदी दिये जो 'अपनी पीढ़ी के सबसे बड़े नेताओंÓ से एक मील आगे रहे। उन्होंने कहा कि ऐसा सिर्फ योग्यता आधारित पार्टियों में ही हो सकता है, और वंशवादी पार्टियों में तो इसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की दोगली निति नहीं चलेगी। एक तरफ तो सेना का अपमान करती है दूसरी तरफ देश भक्तों से वोट मांगती है। कांग्रेस को तो वोट भी आतंकवादियों से मागने चाहिये। इस प्रदेश में बहादुर लोग रहते है देश और देश की सेना से प्यार करते है। वो कभी गद्दारों को वोट नहीं करेंगे। उन्होंने कहा यह भाजपा है जिसने देश की सेना का सम्मान बढ़ाया है। राष्ट्रीय समर स्मारक के साथ-साथ ओआरओपी को लागू करना केवल प्रधानमंत्री मोदी के वश की बात थी।