Sunday, September 23, 2018 11:54 AM

एक बार फिर डॉ. तोगड़िया का पीएम मोदी पर हमला, कहा-प्रधानमंत्री के लायक नहीं

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगडिय़ा ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। तोगडिय़ा ने पीएम मोदी के बारे में कहा कि वे भारत के प्रधानमंत्री के लायक नहीं हैं क्योंकि वे मस्लिम महिलाओं के वकील के रूप में कार्य कर रहे हैं। तोगडिय़ा ने कहा हिंन्दुत्व के नाम पर हिंदुओं के वोट के दम पर मोदी सत्ता में आए थे लेकिन भारत को हिंदू देश बनाने और कश्मीर में हिंदुओं की रक्षा करने के बजाय, वह मुसलमानों के वकील बन गए। तोगडिय़ा ने कहा कि ट्रिपल तलाक मुस्लिमों का निजी मामला है। 

ऐसे में एक हिंदू सरकार के नेता रूप में मोदी को इसकी परवाह नहीं करनी चाहिए। तोगडिय़ा ने कहा कि वो नेता जो कांग्रेस को छोड़कर बीजेपी में आए उन्होंने एक अलग बीजेपी कांग्रेस बना ली है। यही कारण है कि हिंदू अधिकार और कल्याण के बारे में बात करने के लिए बनाई गई पार्टी अब मुस्लिमों के अधिकारों पर चर्चा कर रही है। तोगडय़िा एक धार्मिक शिखर सम्मेलन के लिए मथुरा पहुंचे हुए थे। जहां उन्होंने कहा कि क्या राम मंदिर बनाने के लिए हिंदूओं को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को फोन करना चाहिए? तोगडिय़ा ने कहा कि उन्होंने दशकों तक बीजेपी और वीएचपी की सेवा इसलिए की थी कि राम मंदिर बने। लेकिन मंदिर नहीं बना।

प्रवीण तोगडिय़ा ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इस गवनज़्मेंट में गौरक्षक गुंडे हो गए हैं और कसाई भाई हो गए हैं। उन्होंने कड़े लहजे में कहा कि देश के अधिकतर राज्यों में बाजेपी की सरकार है फिर बीजेपी अयोध्या में राम मंदिर बनाने में असर्मथ है। इससे समझ में आता है कि इन नेताओं के दिमाग में क्या चलता है। वो भगवान राम के नाम का इस्तेमाल कर प्रधानमंत्री की कुर्सी पाना चाहते हैं और ऐसा किया है। वे उस उद्देश्य को भूल गए जिसके लिए उन्हें सरकार में भेजा गया है। तोगडिया ने कहा कि जो लोग 2014 में हिंदू अधिकारों के बारे में बात करते थे, उन्हें 2019 में उनकी निष्क्रियताओं के परिणामों का सामना करना पड़ेगा।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।