Google पर भूलकर भी सर्च न करें ये चीजें, वरना हो सकता है बड़ा नुकसान

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): यदि आपको किसी भी चीज के बारे में जानकारी लेनी है तो गूगल सर्च सबसे आसान तरीका है। पूरी दुनिया गूगल का इस्तेमाल करती है। लेकिन आज हम आपको ऐसी चीजों के बारे में बताने जा रहे जिन्हें आपको गूगल पर सर्च नहीं करना चाहिए। जी हां, आपने सही पढ़ा ऐसा करना आपको भारी पड़ सकता है। चलिए जानते है इनके बारे में..

7 things you didn't know Google Search could do until now

कस्टमर केयर नंबर
Google Search में कस्टमर केयर के नंबर भी नहीं ढूंढने चाहिए। साइबर क्रिमिनल यहां भी आपको गलत कस्टमर केयर नंबर देकर आपकी अहम जानकारी चुरा सकते हैं। बाद में इन्हीं जानकारियों की मदद से आपको आर्थिक नुकसान पहुंचा सकते हैं।

बैंक वैबसाइट 
हम अक्सर ऑनलाइन बैंकिंग करते है। लेकिन आपको कभी भी बैंकिंग के लिए गूगल सर्च नहीं करना चाहिए। इन दिनों बैंकिंग फ्रॉड के लिए साइबर क्रिमिनल बैंक के नकली वेबासाइट बना लेते हैं। ये दिखने में हूबहू असली बैंक जैसे लगते हैं। इन साइटों की मदद से क्रिमिनल आपकी बैंकिंग डिटेल चुरा सकते हैं। आपका बैंक खाता भी खाली हो सकता है।

मोबाइल ऐप्स और सॉफ्टवेयर
वैसे तो मोबाइल ऐप्स और सॉफ्टवेयर आपकी जिंदगी को आसान ही बनाते हैं। लेकिन कई बार साइबर अपराधी मिलते जुलते ऐप्स और सॉफ्टवेयर गूगल सर्च में डाल देते हैं। जैसे ही आप इन्हें डाउनलोड करते हैं, आपके फोन और कंप्यूटर से अहम जानकारी चुरा लिए जाते हैं। आपके फोन और कंप्यूटर में वायरस का भी खतरा बढ़ जाता है।

From rectangular box to pill-shaped, a look at how Google's search field  changed its form over the course of 2 decades / Digital Information World

कूपन कोड
इन दिनों ऑनलाइन शॉपिंग के दौरान कई कूपन कोड के जरिए डिस्काउंट्स दिए जाते हैं। लेकिन कई बार आप मुफ्त में कूपन कोड ढूंढने के लिए गूगल सर्च भी कर लेते है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि कूपन कोड ढूंढने के लिए गूगल सर्च की मदद नहीं लेनी चाहिए। हैकर्स और साइबर क्रिमिनल्स फर्जी कूपन कोड के बदले में आपके कई तरह की निजी और बैंक की जानकारी कलेक्ट कर लेते हैं और आपको चपत लगा सकते हैं।
 
सरकारी स्कीम्स
इन दिनों सरकारी स्कीम्स के जरिए लोगों से धोखाधड़ी के मामले बढ़े हैं। यही कारण है कि गूगल सर्च में किसी भी सरकारी स्कीम के बारे में जानकारी नहीं लेनी चाहिए। बेहतर यही है कि आप आधिकारिक साइट्स में जाकर सरकारी स्कीम्स की जानकारी लें।