बागवानी और वानिकी में कौशल विकास कार्यक्रमों पर चर्चा

11:04 AM Oct 13, 2019 |

सोलन (प्रताप भारद्वाज) - हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम के उपाध्यक्ष नवीन शर्मा के नेतृत्व में एक तीन सदस्यीय टीम ने शुक्रवार को डॉ वाई एस परमार औदयानिकी एवं वानिकी विश्वविद्यालय, नौणी का दौरा किया। टीम ने बागवानी और वानिकी के विभिन्न पहलुओं में उद्यमिता के लिए कौशल विकास कार्यक्रमों पर सहयोग के लिए विश्वविद्यालय के अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक के दौरान नौणी विवि के कुलपति डा. परविंदर कौशल ने विभिन्न क्षेत्रों जैसे फल और सब्जी प्रसंस्करण, मशरूम की खेती, मधुमक्खी पालन, फूलों की खेती, औषधीय और सुगंधित पौधों, बागवानी और वानिकी फसलों की नर्सरी, बागवानी फसलों में ट्रेनिंग एवं प्रूनिंग, प्राकृतिक खेती, फल और सब्जी उत्पादन के क्षेत्र में सहयोग की अवसरों पर प्रकाश डाला।

उन्होंने टीम को अवगत कराया कि विश्वविद्यालय ने उपर्युक्त क्षेत्रों में जरूरतों को पूरा करने के लिए कृषि और संबद्ध विज्ञान में कौशल विकास केंद्र स्थापित किया है। टीम ने वानिकी महाविद्यालय के डीनऔर इस केंद्र के प्रभारी डॉ कुलवंत राय शर्मा, केंद्र कीसंयोजक डॉ अंजू धीमानऔर अन्य सदस्यों के साथ भी बातचीत की। टीम इस यात्रा से बहुत संतुष्ट थी और विश्वविद्यालय के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर करने के लिए भविष्यमें और बातचीत की जाएगी। टीम ने विश्वविद्यालय के प्रायोगिक खेतों,प्रयोगशालाओं, प्रसंस्करण इकाइयों का भी दौरा किया।